Chomu की तीसरी आंख देखरेख के अभाव में हुई बंद, व्यापारियों को भी सताने लगी चिंता
X

Chomu की तीसरी आंख देखरेख के अभाव में हुई बंद, व्यापारियों को भी सताने लगी चिंता

सीसीटीवी (CCTV) कैमरे देखरेख के अभाव में बंद पड़े हैं. 

Chomu की तीसरी आंख देखरेख के अभाव में हुई बंद, व्यापारियों को भी सताने लगी चिंता

Chomu: राजधानी जयपुर (Jaipur) के चौमूं शहर में नगरपालिका प्रशासन द्वारा करीब 30 लाख रुपये की लागत से लगाए गए सीसीटीवी (CCTV) कैमरे देखरेख के अभाव में बंद पड़े हैं. शहर के व्यापारियों को भी अब इसकी चिंता सताने लगी है. शहर में सुरक्षा की दृष्टि के लिए शहर के प्रमुख चौराहों पर 32 सीसीटीवी कैमरे (CCTV Cameras) लगाए गए थे. 

यह भी पढ़े- Jhunjhunu: Driver से गाड़ी रुकवाकर अचानक कोट बांध में कूद गए विधायक, Viral हुआ Video

लेकिन इनमें सिर्फ चार कैमरे वर्तमान में चालू है, बाकी 28 कैमरे कई दिनों से बंद पड़े हैं. जिसके चलते चौमूं शहर (Chomu) की सुरक्षा दृष्टि के रूप में लगी तीसरी आंख भी बंद हो चुकी है. इसको लेकर स्थानीय पुलिस प्रशासन ने कई बार पत्र लिखकर भी अवगत करा दिया है, लेकिन इसके बाद भी समस्या जस की तस बनी हुई है. वहीं, चौमूं शहर में प्रमुख चौराहों पर 32 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे कि अगर शहर में कोई भी एंट्री करेगा, तो कैमरे की नजर से बच नहीं पाएगा. इसी तरह से शहर के पूरे इलाके में कैमरे लगाए गए थे. लेकिन देखरेख के अभाव में चलते हुए कैमरे बंद होने से कोई भी बदमाश किसी घटना को अंजाम देकर फरार हो सकता है.

यह भी पढ़े- Jaipur Police की बड़ी कार्रवाई, शातिर नकबजन को किया गिरफ्तार

शहर में लगे 32 सीसीटीवी कैमरों का कंट्रोल रूम चौमूं पुलिस (Chomu Police) थाने व एसीपी ऑफिस में स्थापित है. जहां से ही कैमरों की कनेक्टिविटी और डिस्प्ले हैं. और वहीं, से ही कैमरों को कंट्रोल किया जाता है. शहर में किसी प्रकार की वारदात होने पर सीसीटीवी फुटेज देखने के लिए पुलिस की राह आसान हो जाती है. लेकिन अब कैमरे खराब होने के चलते पुलिस के लिए भी परेशानी बढ़ गई है. बीजेपी के पार्षद संदीप शर्मा (Sandeep Sharma) और गजेंद्र यादव ने कहा कि शहर की सुरक्षा के लिए कैमरे लगाए गए थे लेकिन अब नगरपालिका इनका रखरखाव भी भूल गई है.

Trending news