close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अरुण जेटली के निधन से दुखी शशि थरूर ने याद की उनसे अपनी पहली मुलाकात

शशि थरूर ने अपने ट्विटर संदेश में लिखा है कि वह अपने मित्र और दिल्‍ली विश्‍वविद्यायल के सीनियर अरुण जेटली के निधन से बेहद दुखी है.

अरुण जेटली के निधन से दुखी शशि थरूर ने याद की उनसे अपनी पहली मुलाकात
अरुण जेटल को 9 अगस्‍त को एम्‍स हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था.

नई दिल्‍ली: पूर्व वित्‍तमंत्री अरुण जेटली के निधन से वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता शशि थरूर भी बेदह दुखी हैं. उन्‍होंने अरुण जेटली के साथ अपनी एक तस्‍वीर को ट्वीटर पर साझा करते हुए अपनी पहली मुलाकात को याद किया है. उन्‍होंने अपने ट्विटर संदेश में लिखा है कि वह अपने मित्र और दिल्‍ली विश्‍वविद्यायल के सीनियर अरुण जेटली के निधन से बेहद दुखी है.

उन्‍होंने अपने ट्वीटर संदेश में लिखा है कि अरुण जेटली से उनकी पहली मुलाकात तब हुई थी, जब वे दिल्‍ली विश्‍वविद्यायल छात्र संघ (DUSU) के अध्‍यक्ष थे. उस समय शशि थरूर सेंट स्‍टीफेंस कालेज यूनियन के अध्‍यक्ष थे. उन्‍होंने लिखा है कि राजनै‍तिक मतभेदों के बावजूद हम एक दूसरे का न केवल सम्‍मान करते थे, बल्कि हमारे बीच स्‍वस्‍थ्‍य संवाद होता था.

यह भी पढ़ें: अरुण जेटली के निधन पर PM मोदी ने कहा, 'मैंने एक ऐसा दोस्‍त खो दिया...'

यह भी पढ़ें: अरुण जेटली के निधन से राजनीति में रिक्‍त हुए स्‍थान को कभी भरा नहीं जा सकता: डॉ. सुभाष चंद्रा

शशि थरूर ने अपने ट्वीटर संदेश में लिखा है कि यह परंपरा लोकसभा में भी जारी रही. उन्‍होंने कहा है कि बजट बहस के दौरान हमारे बीच हमेशा एक स्‍वस्‍थ्‍य संवाद रहा है. उन्‍होंने अपने संदेश में अरुण जेटली के निधन को भारत का बहुत बड़ा नुकसान बताया है. वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता शशि थरूर ने अपने शोक संदेश के साथ पूर्व की एक तस्‍वीर भी साझा की है. जिसमें वे और अरुण जेटली प्रसन्‍न मुद्रा में नजर आ रहे हैं.

यह भी पढ़ें: अरुण जेटली के निधन के बाद पसरा मातम, राष्‍ट्रपति समेत कई हस्तियों ने जताया दुख

LIVE TV...

यह भी पढ़ें: क्रिकेट से खास लगाव था अरुण जेटली को, DDCA में था उनका खासा रूतबा

उल्‍लेखनीय है कि पूर्व वित्‍त मंत्री अरुण जेटली का शनिवार दोपहर दिल्‍ली के एम्‍स हॉस्पिटल में निधन हो गया है. उन्‍हें 9 अगस्‍त को एम्‍स हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था. एम्‍स प्रशासन के अनुसार, अरुण जेटली का निधन शनिवार को दोपहर 12:07 बजे हुआ है. पिछले दिनों अरुण जेटली को एक्‍स्‍ट्राकारपोरल मेंब्रेन ऑक्‍सीजनेशन (ECMO) और इंट्रा ऐरोटिक बैलून (IABP) सपोर्ट पर रखा गया था.