close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

शरद पवार को झटका, सरकार ने बांध से उनके गढ़ बारामती जाने वाले पानी का बहाव रोका

पवार बारामती लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से कई बार चुनाव जीत चुके हैं और अब यह सीट उनकी बेटी सुप्रिया सुले के पास है.

शरद पवार को झटका, सरकार ने बांध से उनके गढ़ बारामती जाने वाले पानी का बहाव रोका
भाजपा नीत राज्य सरकार के इस फैसले को राजनीतिक गलियारों में पवार के लिए झटके के तौर पर देखा जा रहा है. (फाइल फोटो)

मुंबई : महाराष्ट्र सरकार ने राकांपा प्रमुख शरद पवार के गढ़ बारामती इलाके में जाने वाले बांध के पानी का बहाव रोककर इसकी आपूर्ति राज्य के कुछ ऐसे इलाकों में करने का फैसला किया है, जहां जल का अभाव है.

भाजपा नीत राज्य सरकार के इस फैसले को राजनीतिक गलियारों में पवार के लिए झटके के तौर पर देखा जा रहा है. पवार बारामती लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से कई बार चुनाव जीत चुके हैं और अब यह सीट उनकी बेटी सुप्रिया सुले के पास है.

पुणे स्थित नीरा देवघर बांध से कुछ पानी अभी तक बारामती और इंदापुर (बारामती लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र का हिस्सा) में भेजा जाता था. हालिया लोकसभा चुनाव प्रचार मुहिम के दौरान भाजपा नेता रणजीत नाइक निम्बालकर ने बारामती को ‘‘अतिरिक्त’’ जल के वितरण का मामला उठाया था.


राकांपा प्रमुख शरद पवार का फाइल फोटो...

उन्होंने दावा किया था कि बारामती और इंदापुर नीरा देवघर बांध से लाभान्वित होने वाले तय इलाकों (कमांड एरिया) से बाहर हैं. उन्होंने कहा कि बांध का जल बारामती के गन्ना किसानों को भेजे जाने से सोलापुर और सतारा जिलों में पर्याप्त पेयजल नहीं मिल पा रहा है.

जल संसाधन विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि नवनियुक्त भाजपा सांसद की आपत्तियों के बाद राज्य सरकार ने बारामती एवं इंदापुर को मिलने वाले पानी को रोकने का बुधवार को आदेश दिया. यह जल सूखाग्रस्त इलाकों सतारा, सोलापुर और सांगली में भेजा जाएगा. 

(इनपुट भाषा से)