close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

16 साल की HIV से पीड़ित लड़की का सपना पूरा, 1 दिन के लिए बनीं पुलिस अफसर

गुजरात के राजकोट में रहने वाली 16 साल की HIV ग्रस्त बच्ची जिसका सपना था पुलिस अफसर बनने का और आज उसका यह सपना साकार हुआ है. 

16 साल की HIV से पीड़ित लड़की का सपना पूरा, 1 दिन के लिए बनीं पुलिस अफसर

गुजरात: जीवन मे सभी लोगों के कोई न कोई सपना जरूर होता है ओर जब यह सपना साकार होता है तो सभी लोगों को बेहद खुशी मिलती है. गुजरात के राजकोट में रहने वाली 16 साल की HIV ग्रस्त बच्ची जिसका सपना था पुलिस अफसर बनने का और आज उसका यह सपना साकार हुआ है. राजकोट महिला पुलिस थाने में आज यह बच्ची पुलिस अफसर बन कर पहुंची थी.  जहां पर बाकी पुलिस अफसर ने सेल्यूट कर समान के साथ स्वागत किया था. गुजरात के राजकोट में रहने वाली 16 साल की बच्ची पुलिस अधिकारी बनी.

आपको सुनने में यकीन नहीं होगा पर यह सच हे. आपके मन में कई सवाल खड़े होंगे की 16 साल की बच्ची कैसे पुलिस अधिकारी बन सकती है तो हम आपको बताते हे की १६ साल की बच्ची कैसे बनी पुलिस अधिकारी, पुलिस का नाम सुनते ही लोगो के मन में अलग अलग ख़याल आते हैं लेकिन गुजरात की राजकोट पुलिस ने कुछ ऐसा काम किया हे जिससे पुलिस के ऊपर रही आपकी सोच बदल जाएगी.

Image

राजकोट में 2003 से कार्यरत HIV ग्रस्त लोगों को संस्था ने 25 बच्चों की इच्छा पूरी करने की नेम ली थी जिसमे कही बचो ने मोबाइल, साइकल, जैसी चीजें की मांग की थीं लेकिन एक बच्ची ने पुलिस बनने की इच्छा बताई जिसके चलते संस्था के संचालक ने राजकोट पुलिस कमिश्नर के साथ बैठ कर यह बात बताई थी और पुलिस ने यह बात को मायने रखते आज के दिन राजकोट महिला पुलिस ठाणे में इस १६ साल की बच्ची पोलिस इन्स्पेक्टर का फर्ज निभाने की जिमेदारी दी थी.

राजकोट की १६ साल की बच्ची जो की जन्म से ही HIV पोसिटिव हे, यह बच्ची HIV पोसिटिव होते हुए भी अपनी ज़िंदगी बखूबी जी रही हे, वैसे लोगो के पास सबकुछ होता हे फिर भी लोग कुछ नहीं होने की बात करते हे यह स्टोरी उन लोगो के लिए हे जिनके पास सबकुछ होते हुए भी कुछ नहीं होने की बात करते हे, राजकोट की इस बच्ची जो जन्म से ही HIV हे और इस बच्ची का सपना था की वह एक दिन पोलिस अधिकारी बने लोग क्राइम को जड़ से मिटा दे, आज इस बच्ची का सपना पूरा हुआ हे,

जी हा राजकोट के महिला पोलिस थाने में इस बच्ची ने पोलिस इन्स्पेक्टर का चार्ज संभाला था ओर उसके चलते बच्ची के चहरे पे खुशी दिखने को मिलती थीं और साथ ही में बच्ची ने पुलिस का आभार व्यक्त किया था..राजकोट की डिस्ट्रिक्ट नेटवर्क ऑफ़ पीपल लिविंग विथ HIV संस्था और राजकोट पोलिस की मददसे इस बच्ची का सपना पूरा हुआ है.

राजकोट महिला पोलिस ठाणे में इस बच्ची ने पोलिस यूनिफार्म पहनकर पोलिस इन्स्पेक्टर का चार्ज सौपा गया था, इस बच्ची को पोलिस इन्स्पेक्टर के पद के लिए ट्रीट कर माहौल खड़ा किया गया था और इस बच्ची का सपना पूरा किया गया था. पोलिस कमिश्नर मनोज अग्रवाल के आदेश से  आज इस १६ साल की HIV पोसिटिव बच्ची का सपना पूरा किया गया हे, पुलिस के लिए गलत सोच रखने वाले लोग अब सायद इस घटना को देखकर पुलिस को सेल्यूट जरूर करेंगे.