कश्मीर घाटी में शीतलहर का कहर जारी, सभी स्कूल किए गए बंद

 कश्मीर घाटी में शीतलहर और घने कोहरे का कहर जारी है. 

कश्मीर घाटी में शीतलहर का कहर जारी, सभी स्कूल किए गए बंद

कश्मीर: कश्मीर घाटी में शीतलहर और घने कोहरे का कहर जारी है. ठिठुरती ठंड ने प्रशासन को समय से पहले घाटी के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल बंद करले को मजबूर किया है. क्योंकि घने कोहरे की वजह से सुबह-सुबह बच्चों को घरों से निकलने में मुश्किल हो गया था. अब घाटी में स्कूल अब फरवरी के २४ तारीख को खोलेंगे. वहीं आज चौथे दिन भी श्रीनगर हवाई अड्डे से घने कोहरे के कारण कोई भी जहाज उड़ान नहीं भर सका, सभी उड़ानों को कम विजिबिलिटी के कारण रद्द कर दिया गया.

घने कोहरे की स्थिति ने लोगों के लिए भारी मुश्किलें खड़ी करदी हैं,विशेष रूप से सुबह के वक्त गाड़ी चलाने में लोगों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है. लोगों को वाहनों की हेडलाइट्स जला कर वाहन चलाने पड़ रहे हैं ताकि कोई हादसा नहीं हो. 

डॉक्टरों के मुताबिक बढ़ती ठंड और घने कोहरे से हार्ट अटैक, ब्लड प्रेशर बढ़ना और सांस रुकने के समस्याओं से लोगों को दिक्कत हो सकती हैं इसलिए एहतियात करना आवश्यक है. मौसम की इन परिस्थितियों के कारण घाटी में जीवन अस्त व्यस्त हो गया हैं. आम लोगों को काफ़ी मुश्किलों के सामना करना पड़ रहा हैं. डलझील पर अपनी दुकान चला रहे हुसैन का कहना हैं "कारोबार काफ़ी प्रभावित हुआ हैं. ग्राहक कम आते हैं ठंड बहुत बढ़ गई है. इससे बहुत प्रभाव पड़ा है."

कश्मीर घाटी में इस बार बर्फबारी नवंबर के पहले सप्ताह से देखने को मिली जो क़रीब 7 दशक बाद ऐसा देखने को मिला हैं अब तक घाटी में इस सीजन में तीन बार बर्फबारी हो चुकी है.

तापमान की बात करे तो आज भी कश्मीर और लद्दाख छेत्र में कोई ऐसी जगह नहीं जहां तापमान शून्य से ऊपर दर्ज किया गया हो. श्रीनगर में तापमान शून्य से 2.5 डिग्री सेल्सियस नीचे चला गया.