Lockdown: बूढ़ी दादी की अंतिम इच्छा पूरी करने के लिए इस couple ने जीत लिया दिल

सबसे बड़ी बात यह है कि उन्होंने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा कि कभी बिना बारात के ही सात फेरे लेने पड़ेंगे.

Lockdown: बूढ़ी दादी की अंतिम इच्छा पूरी करने के लिए इस couple ने जीत लिया दिल
विवाह के बाद दादी के साथ फोटो खिंचवाते दूल्हा और दुल्हन.

राजकुमार दीक्षित, सीतापुर: कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण को रोकने के लिए इन दिनों पूरा देश एकजुट है. इसी क्रम में यूपी के सीतापुर में एक जोड़े ने अपनी दादी की अंतिम इच्छा पूरी करने के लिए घर के अंदर ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए एसडीएम सदर अमित भट्ट के आदेश के बाद बारात के बिना ही की सात फेरे लिए. शादी में ना बैंड-बाजा था और ना ही बाराती. फिर भी सभी खुश थे, महज 10 लोग ही शादी में मौजूद रहे. विवाह के दौरान दूल्हा-दुल्हन और मौजूद रहे सभी लोगों ने सैनिटाइजर और मास्क का भी इस्तेमाल किया.

सीतापुर में महोली तहसील के रिछाई गांव के रहने वाले लोकेंद्र शर्मा की शादी सीतापुर शहर की रहने वाली ज्योति शर्मा के साथ तय हुई थी. इन दोनों की शादी 27 अप्रैल को होनी थी लेकिन कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन के चलते दोनों की शादी तय डेट पर नहीं हो पाई.

ऐसे में दुल्हन ज्योति की बूढ़ी दादी की अंतिम इच्छा थी कि उनकी पोती की शादी उनकी आंखों के सामने हो जाए. जिसके बाद दोनों के परिवार वालों ने प्रशासन की अनुमति के बाद महज 10 लोगों की उपस्थिति में दोनों की शादी को संपन्न करवाई.

ये भी पढ़ें- महिलाओं पर भद्दा कमेंट कर बुरी तरह फंसा मौलाना, कोरोना के लिए बताया था जिम्मेदार

एसडीएम सदर के द्वारा दी गई अनुमति में विवाह के दौरान दूल्हे के पक्ष से 5 लोग और दुल्हन के पक्ष से 5 लोगों को मौजूद रहने के लिए कहा गया. वहीं सख्त हिदायत दी गई कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए सैनिटाइजर, मास्क आदि का भी प्रयोग किया जाए और सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान रखा जाए.

बता दें  कि फिलहाल इस जोड़े की शादी संपन्न हो गई और दोनों ही बहुत खुश हैं. सबसे बड़ी बात यह है कि उन्होंने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा कि कभी बिना बारात के ही सात फेरे लेने पड़ेंगे. लेकिन कोरोना महामारी संक्रमण को रोकने के लिए पीएम मोदी की अपील के बाद पूरा देश एकजुट दिखाई दे रहा है.

ये भी देखें-

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.