close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

हिमाचल प्रदेशः भारी बारिश के चलते खोले गए भाखड़ा डैम के चारों फ्लड गेट, पंजाब में बाढ़ का खतरा बढ़ा

हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश के चलते भाखड़ा डैम के चारों फ्लड गेट खोल दिए गए हैं. भाखड़ा डैम की गोविंद सागर झील से 50000 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है, अभी भाखड़ा डैम का जलस्तर 1674 फीट है.

हिमाचल प्रदेशः भारी बारिश के चलते खोले गए भाखड़ा डैम के चारों फ्लड गेट, पंजाब में बाढ़ का खतरा बढ़ा
भाखड़ा डैम के चारों फ्लड गेट खोल दिए गए हैं और डैम से 63 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया है. (फोटो साभारः ANI)

नई दिल्लीः हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश के चलते भाखड़ा डैम के चारों फ्लड गेट खोल दिए गए हैं. भाखड़ा डैम की गोविंद सागर झील से 50000 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है, अभी भाखड़ा डैम का जलस्तर 1674 फीट है, जोकि 1682 फीट तक बढ़ाया जा सकता है. दरअसल, हिमाचल प्रदेश में बीते कुछ दिनों से लगातार बारिश जारी है, जिसके चलते भाखड़ा डैम के चारों फ्लड गेट खोल दिए गए हैं और डैम से 63 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया है. ऐसे में पंजाब में कहीं न कहीं यह पानी बाढ़ के हालात निर्मित कर सकता है और यही कारण है कि सतलुज दरिया के किनारे बसे पंजाब के गांवों में डर का माहौल है.

वहीं हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश की आशंका के चलत प्रदेश के कुछ जिलों में रेड अलर्ट भी जारी किया जा चुका है, जिनमें ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा, चंबा और मंडी शामिल हैं. मौसम विभाग द्वारा जारी चेतावनी के अनुसार यहां 100 मीटर से भी अधिक बारिश होने की आशंका है, जिसके चलते यहां काफी खराब हालात बन सकते हैं. ऐसे में मौसम विभाग ने अलर्ट जारी कर स्थानीय लोगों को सतर्क रहने और प्रशासन को गंभीर परिस्थितियों के लिए तैयार रहने को कहा है.

मुंबई में हाई टाइड का अलर्ट, समंदर से उठेंगी 4.90 मीटर की ऊंची लहरें

देखें लाइव टीवी

VIDEO : ब्यास नदी की तेज धार में बह गई कार, राफ्टर्स की मदद से कार सवारों को बचाया जा सका

बता दें भारी बारिश के चलते प्रदेश के कई जिलों में हालत बेहद गंभीर हैं और शहरों की सड़कें पानी से लबालब भरी नजर आ रही हैं. हिमाचल प्रदेश में मौसम विभाग ने कुल्लू, सोलन, शिमला और सिरमौर में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग द्वारा जारी अलर्ट के मुताबिक आने वाले 22 अगस्त तक हिमाचल प्रदेश के सोलन, शिमला, कांगड़ा, मंडी, ऊना, हमीरपुर, बिलासपुर, चंबा और कुल्लू में काफी गंभीर स्थितियां उत्पन्न हो सकती हैं. मौसम विज्ञान केंद्र ने इस अलर्ट के साथ ही सरकार को एहतियात बरतने को भी कहा है.