close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

IMD ने की मुंबई, गुजरात में दक्षिण-पश्चिम मानसून पहंचने की घोषणा

मुंबई में मानसून आमतौर पर हर साल 10 जून को पहुंच जाता है, लेकिन इस साल दो सप्ताह गुजर जाने पर भी उसकी कोई खबर नहीं है.

IMD ने की मुंबई, गुजरात में दक्षिण-पश्चिम मानसून पहंचने की घोषणा
(प्रतीकात्मक फोटो)

मुंबई/गुजरात: भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने मंगलवार को मुंबई में दक्षिण-पश्चिम मानसून के पहंचने की घोषणा की, जहां अत्यधिक आर्द्रता के साथ बारिश होने में देरी से पानी की किल्लत की आशंका बढ़ गई है. साथ ही आईएमडी ने गुजरात में भी दक्षिण-पश्चिम मानसून के पहुंचने की घोषणा कर दी है, जहां राज्य के दक्षिणी क्षेत्रों में बौछारें पड़नी शुरू हो गई हैं.

मुंबई में मानसून आमतौर पर हर साल 10 जून को पहुंच जाता है, लेकिन इस साल दो सप्ताह गुजर जाने पर भी उसकी कोई खबर नहीं है. पिछले 10 साल में यह पहला मौका है जब मानसून इतनी देरी से आ रहा है.

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमसी) मुंबई के उप महानिदेशक एस होसलीकर ने ट्वीट किया,‘आईएमडी की तरफ से आज पूरे महाराष्ट्र को कवर करते हुए मुंबई में मानसून के शुरू होने की घोषणा. ’

वहीं नागरिक निकाय के एक अधिकारी ने बताया कि यदि मानसून मंगलवार को तय तिथि पर मुंबई नहीं पहुंचता तो लोगों को एक बार फिर पानी की कटौती का सामना करना पड़ सकता है. दूसरी ओर, अमदाबाद में आईएमडी निदेशक जयंत सरकार के अनुसार मानसून दक्षिण सौराष्ट्र पहुंच गया है और देश के बाकी हिस्सों में भी जल्द पहुंच जाएगा.

सरकार ने कहा, ‘मानसून आज गुजरात पहुंच गया. ‘नर्दन लिमिट ऑफ मानसून’ (एनएलएम) उत्तरी सीमा अरब सागर से गुजर रहा है. मानसून दक्षिण गुजरात और सौराष्ट्र क्षेत्र के दक्षिणी हिस्सों में पहुंच गया है. मानसून जल्द ही गुजरात के बाकी हिस्सों में भी पहुंच जाएगा.’