जम्मू कश्मीर में युवाओं को कट्टरपंथी बनाने वालों के खिलाफ हो कड़ी कार्रवाई : DGP

पुलिस अधिकारियों से रूबरू होते हुए डीजीपी ने युवाओं को कट्टरपंथ में लिप्त कराने और आतंकवाद की तरफ धकेलने वाले तत्वों से सख्ती के साथ निपटने की जरूरत पर बल दिया. 

जम्मू कश्मीर में युवाओं को कट्टरपंथी बनाने वालों के खिलाफ हो कड़ी कार्रवाई : DGP
जम्मू कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह (फाइल फोटो)

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह ने बुधवार को अधिकारियों से कहा कि प्रदेश में युवाओं को कट्टरपंथ में लिप्त कराने वाले तत्वों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए. 

बारामूला जिले में पुलिस अधिकारियों से रूबरू होते हुए डीजीपी ने युवाओं को कट्टरपंथ में लिप्त कराने और आतंकवाद की तरफ धकेलने वाले तत्वों से सख्ती के साथ निपटने की जरूरत पर बल दिया.  उन्होंने पुलिस अधिकारियों को इस तरह की गतिविधियों में लिप्त लोगों की पहचान करने और उनके खिलाफ मामला दर्ज करने का निर्देश दिया. 

दिलबाग सिंह ने की पुलिस कर्मियों की तारीफ
दिलबाग सिंह ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में जीत के लिए पुलिस कर्मियों की तारीफ की. उन्होंने कहा कि देश भर में प्रदेश पुलिस के प्रयासों और उपलब्धियों को सराहना मिल रही है. उन्होंने याद किया कि गुजरात में डीजीपी सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू कश्मीर पुलिस की सराहना की थी. 

दिलबाग सिंह ने कहा कि बारामूला पुलिस ने शांति बरकरार रखने के साथ ही जिले में कोई आतंकवादी गतिविधि नहीं होने दी है. 'इससे लोगों को बड़ी राहत मिली हैं. पुलिस और सेना को साथ मिलकर काम करने की जरूरत है ताकि आतंकवादियों की निर्दोष लोगों के खिलाफ हिंसा समाप्त हो जाए.'

(इनपुट - भाषा)