close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मुंबई-पुणे मार्ग के पहाड़ी हिस्से में CCTV कैमरों के कारण टला ट्रेन हादसा

सह्याद्री एक्सप्रेस को ठाकुरवाड़ी स्टेशन की ओर वापस मोड़ा गया और इसे रात लगभग 10.30 बजे कोल्हापुर की ओर रवाना किया गया.

मुंबई-पुणे मार्ग के पहाड़ी हिस्से में CCTV कैमरों के कारण टला ट्रेन हादसा
प्रतीकात्मक तस्वीर

मुंबई: मुंबई-पुणे मार्ग के ‘घाट’ (पहाड़ी) इलाके में मानसून के समय निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे लेकिन इन कैमरों की वजह से एक बड़ा रेल हादसा टल गया. इन कैमरों की वजह से पटरी पर पड़ी एक भारी चट्टान को समय रहते देख लिए जाने से ट्रेन को इससे टकराने से पहले ही रोक दिया गया.

बृहस्पतिवार को रात में करीब 8.15 बजे लोनावला के नजदीक पटरी पर एक बड़ा भारी पत्थर गिर गया जिसके कारण मुंबई-कोल्हापुर सहयाद्री एक्सप्रेस के परिचालन में दो घंटे का विलंब हुआ. रेलवे के एक अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि समय रहते सीसीटीवी निगरानी कर्मचारी ने इस भारी पत्थर को देख लिया जिससे एक बड़ा ट्रेन हादसा टल गया.

मध्य रेलवे के प्रवक्ता सुनील उदासी ने बताया, ‘‘निगरानी कर्मचारियों ने न केवल उच्च अधिकारियों को जानकारी दी बल्कि यह भी सुनिश्चित किया कि ऊपर के उपकरणों की बिजली की आपूर्ति बंद कर दी जाए और आने वाली ट्रेनों को समय पर रोक दिया जाए.’’ उन्होंने बताया कि सह्याद्री एक्सप्रेस को ठाकुरवाड़ी स्टेशन की ओर वापस मोड़ा गया और इसे रात लगभग 10.30 बजे कोल्हापुर की ओर रवाना किया गया.

उदासी ने कहा, ‘‘जब ट्रेन रात 11 बजे लोनावाला पहुंची तब यात्रियों को ठाकुरवाड़ी में पानी और नाश्ता मुहैया कराया गया.’’ उदासी ने बताया कि मार्ग पर जल्द से जल्द यातायात बहाल कर दिया गया.