भाजपा ने जितिन प्रसाद, संजय निषाद, अंजान भुर्जी और वीरेन्द्र गुर्जर को MLC मनोनीत​ किया
X

भाजपा ने जितिन प्रसाद, संजय निषाद, अंजान भुर्जी और वीरेन्द्र गुर्जर को MLC मनोनीत​ किया

भाजपा ने बेहद सधे अंदाज में मनोनीत विधान परिषद सदस्यों का नाम फाइनल किया और राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने उनके मनोयन पर अपनी मुहर लगी दी है. 

भाजपा ने जितिन प्रसाद, संजय निषाद, अंजान भुर्जी और वीरेन्द्र गुर्जर को MLC मनोनीत​ किया

लखनऊ: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर भारतीय जनता पार्टी लगातार अपना जातीय समीकरण दुरुस्त करने में लगी है. योगी आदित्यनाथ सरकार ने चुनाव से ठीक पहले अपने मंत्रिमंडल का विस्तार कर जातीय व क्षे​त्रीय समीकरण साधने की कोशिश की है. रविवार को हुए कैबिनेट विस्तार में सवर्ण, अनूसचित जाति और अन्य पिछड़ा वर्ग से आने वाले 7 मंत्रियों को शपथ दिलाया गया.

किसानों के लिए खुशखबरी, CM योगी ने गन्ना मूल्य में 25 रुपये बढ़ाने का किया ऐलान

इसी शाम भाजपा ने बेहद सधे अंदाज में मनोनीत विधान परिषद सदस्यों का नाम फाइनल किया और राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने उनके मनोयन पर अपनी मुहर लगी दी है. कांग्रेस से भाजपा में आए जितिन प्रसाद, निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजय निषाद, गोपाल अंजान भुर्जी और चौधरी वीरेन्द्र सिंह गुर्जर को विधान परिषद सदस्य मनोनीत किया गया है. 

हर भारतीय को मिलेगा यूनिक हेल्थ आईडी कार्ड, एक क्लिक में मिलेगी आपकी सारी मेडिकल हिस्ट्री

इनमें जितिन प्रसाद ने योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ भी ग्रहण कर लिया है. अन्य तीन मंत्री नहीं बने हैं लेकिन उच्च सदन में भेजे गए हैं. निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजय निषाद ने बीते दिनों भाजपा के साथ विधानसभा चुनाव 2022 के लिए गठबंधन किया था. उनके बेटे प्रवीण निषाद भाजपा से संतकबीर नगर से सांसद हैं.

सख्त और ईमानदार प्रशासक के साथ मिथक तोड़ने वाले CM हैं योगी, अब पितृपक्ष में कैबिनेट विस्तार

मुरादाबाद के गोपाल अंजान भुर्जी प्रदेश सरकार में दर्जा प्राप्त मंत्री की हैसियत रखने वाले उत्तर प्रदेश खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के उपाध्यक्ष हैं. भाजपा ने मार्च 2019 में समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता वीरेन्द्र सिंह गुर्जर को पार्टी में शामिल कराया था. अब उनको विधान परिषद सदस्य मनोनीत किया है. 

लखनऊ राजभवन में योगी कैबिनेट का विस्तार, मंत्री पद की रेस में हैं ये 7 नाम, इनके बारे में जानिए 

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के गुर्जर समाज के सबसे प्रतिष्ठित परिवार से ताल्लुक रखने वाले चौधरी वीरेन्द्र सिंह को समाजवादी पार्टी की सरकार में मंत्री बनाया गया था. माना जा रहा है कि भाजपा उनके प्रभाव का प्रयोज कैराना, बिजनौर, गौतमबुद्धनगर, मेरठ, मुजफ़्फरनगर, सहारनपुर, अमरोहा, गाजियाबाद और बुलंदशहर यूपी की गुर्जर बाहुल्य सीटों पर करेगी. वीरेन्द्र सिंह शामली के कैराना के हैं. वह छह बार विधायक भी रह चुके हैं. 

WATCH LIVE TV

Trending news