Weather Update Today: कहीं रुलाएगी झमाझम बारिश, कहीं जहरीली हवा में सांस लेने को लोग मजबूर, IMD ने जारी किया ये अलर्ट
topStories1hindi1470696

Weather Update Today: कहीं रुलाएगी झमाझम बारिश, कहीं जहरीली हवा में सांस लेने को लोग मजबूर, IMD ने जारी किया ये अलर्ट

Weather Forecast: मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार, कम दबाव का क्षेत्र 5 दिसंबर तक दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी और इससे सटे दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर बनने की संभावना है. यह 7 दिसंबर तक एक प्रेशर में बदल सकता है और इसके पश्चिम उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने और उत्तर तमिलनाडु और पुडुचेरी क्षेत्रों तक पहुंचने की संभावना है.

Weather Update Today: कहीं रुलाएगी झमाझम बारिश, कहीं जहरीली हवा में सांस लेने को लोग मजबूर, IMD ने जारी किया ये अलर्ट

Weather News Today: बंगाल की खाड़ी के दक्षिणपूर्व और अंडमान सागर में कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है, जिसकी वजह से 8 दिसंबर को पुडुचेरी और तमिलनाडु के 7 जिलों में झमाझम बारिश पड़ सकती है. मौसम विभाग ने यह जानकारी दी है. आईएमडी ने कहा कि इस दौरान भारी बारिश के साथ तेज हवाएं भी चलेंगी.

पूर्वोत्तर मॉनसून, जो नवंबर में सक्रिय नहीं था, राज्य में कम बारिश होने की वजह से मौसम विभाग का अनुमान है कि दिसंबर में कमी की भरपाई हो सकती है. बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक के बाद एक मौसम प्रणालियों के आने की संभावना से दिसंबर के महीने में भारी बारिश होगी. आईएमडी ने यह भी भविष्यवाणी की है कि एक कम दबाव प्रणाली चेन्नई समेत उत्तरी तटीय तमिलनाडु में भारी बारिश और तेज हवाएं ला सकती है. 

मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार, कम दबाव का क्षेत्र 5 दिसंबर तक दक्षिण पूर्व बंगाल की खाड़ी और इससे सटे दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर बनने की संभावना है. यह 7 दिसंबर तक एक प्रेशर में बदल सकता है और इसके पश्चिम उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने और उत्तर तमिलनाडु और पुडुचेरी क्षेत्रों तक पहुंचने की संभावना है.

दिल्ली में हालात बेकाबू

दूसरी ओर, दिल्ली-एनसीआर में लोग जहरीली हवा में सांस लेने को मजबूर हैं. एयर क्वॉलिटी में भारी गिरावट और एक्यूआई के 'गंभीर' श्रेणी में पहुंचने के बाद, संशोधित जीआरएपी (ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान) को लेकर रविवार को उप-समिति की बैठक हुई. 

इसमें मौसम संबंधी स्थितियों और दिल्ली के एयर क्वॉलिटी इंडेक्स के पूर्वानुमान की समीक्षा की. फैसला लिया गया कि 'गंभीर' एयर क्वॉलिटी (401-450 एक्यूआई) से जुड़े जीआरएपी के चरण 3 को फिर से दिल्ली-एनसीआर में लागू किया जाना चाहिए. यह जीआरएपी के चरण 1 और चरण 2 के तहत सभी कार्रवाइयों से इतर है, ताकि क्षेत्र में वायु गुणवत्ता को और खराब होने से रोका जा सके. 

एजेंसियों को मिली ये सलाह

सभी एजेंसियों को सलाह दी गई है कि जीआरएपी के चरण 1 और चरण 2 के तहत कार्रवाई को और तेज किया जाए और चरण 3 के तहत कार्रवाई के लिए विशेष रूप से कंस्ट्रक्शन और विध्वंस गतिविधियों, स्टोन क्रशर और खनन और संबंधित गतिविधियों, औद्योगिक से संबंधित प्रतिबंध संचालन, ईंट भट्ठे, बिना मंजूरी वाले ईंधन का इस्तेमाल करने वाले हॉट मिक्स प्लांट के लिए खास अभियान चलाए जाएं. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के मुताबिक, उप-समिति ने यह भी पाया कि पिछले 24 घंटों में हवा की क्वॉलिटी में और गिरावट देखी गई. दिल्ली का एक्यूआई रविवार को 407 पर पहुंच गया.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi - अब किसी और की ज़रूरत नहीं

Trending news