ZEE जानकारी: 16वीं लोकसभा के आखिरी दिन सदन में क्या-क्या हुआ?

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत की 16वीं लोकसभा की उपलब्धियां.. पूरे देश को बताई.

ZEE जानकारी: 16वीं लोकसभा के आखिरी दिन सदन में क्या-क्या हुआ?

आज भारत की 16वीं लोकसभा का आखिरी दिन था . वर्ष 2014 में देश की जनता ने भारत के 543 सांसदों को 5 वर्ष के लिए चुना था और इन सांसदों को संसद में बैठकर, जनता के मुद्दे उठाने और कानून बनाने का लाइसेंस दिया था . लेकिन आज उस लाइसेंस की Validity खत्म हो गई है. अगले 2 महीनों में लोकसभा चुनाव होंगे और इन सांसदों को एक बार फिर जनता के बीच जाकर.. अपना चुनावी रिचार्ज करवाना होगा. 

वैसे आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत की 16वीं लोकसभा की उपलब्धियां.. पूरे देश को बताई हैं. 

प्रधानमंत्री ने कहा कि पहली बार देश में महिलाओं का इतना सशक्त प्रति-निधित्व देखने को मिला है. 

16वीं लोकसभा में रक्षा मंत्री, विदेश मंत्री और लोकसभा की स्पीकर का पद महिलाओं ने संभाला .

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत विश्व में छठा सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाला देश बना है . इससे पूरे देश का आत्मविश्वास बढ़ा है. 

पिछले 5 वर्षों में भारत की अंतरिक्ष एजेंसी ISRO ने एक साथ... अधिकतम सैटेलाइट प्रक्षेपित किए . और अंतरिक्ष के क्षेत्र में कामयाबी की नई मिसाल कायम की है. 

उन्होंन इस बात पर ज़ोर दिया कि आज के दौर में भारत की बात को पूरी दुनिया सुनती है क्योंकि भारत में एक पूर्ण बहुमत की सरकार काम कर रही है. संकट की घड़ी में भारत एक संरक्षक की तरह दुनिया के सामने आया है और उसका सम्मान बढ़ा है. भारत ने नेपाल में भूकंप के समय 80 देशों के नागरिकों को संकट से निकाला, इसके अलावा यमन में भी भारत की भूमिका की, दुनिया ने तारीफ़ की है. 

प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार के कार्यकाल में बांग्लादेश के साथ सीमा विवाद को सुलझा लिया गया . 

16वीं लोकसभा में कुल 203 बिल पारित किए .

1400 बेकार कानूनों को निरस्त किया गया . 

बेनामी संपत्ति का कानून पारित किया गया . और काले धन और भ्रष्टाचार पर कठोर प्रहार हुआ . 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अपने भाषण में विपक्ष और कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी पर व्यंग्य के बाण भी छोड़े. राहुल गांधी ने 2016 में कहा था कि प्रधानमंत्री उन्हें बोलने नहीं देते... और अगर उन्हें बोलने का मौका मिला तो भूकंप आ जाएगा. इस राजनीतिक डायलॉग पर आज प्रधानमंत्री ने कहा - कि सुनते हैं भूकंप आएगा... लेकिन 5 वर्ष बीत गए भूकंप नहीं आया . 

जुलाई 2018 में राहुल गांधी ने लोकसभा में अचानक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गले लगा लिया था. आज उस घटना पर चुटकी लेते हुए प्रधानमंत्री ने कहा संसद में उन्हें ये भी पता चल गया कि गले मिलने और गले पड़ने में क्या फ़र्क होता है ? 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद में राहुल गांधी द्वारा की गई... आंखों की गुस्ताखियों का ज़िक्र भी किया. उनका भाषण 30 मिनट 19 सेकेंड का था.. हमने आपके लिए इस भाषण के Highlights तैयार किए हैं. 

समाजवादी पार्टी के नेता मुलायम सिंह यादव ने आज लोकसभा में अपने एक बयान से पूरे देश को आश्चर्य चकित कर दिया. 

मुलायम सिंह यादव ने सबको बधाई देते हुए ये कहा कि सभी सांसद एक बार फिर चुनाव जीत कर संसद में आएं. इशारों में समझें तो इसका मतलब यही है कि बीजेपी को एक बार फिर बहुमत मिले . लेकिन लोग उस वक्त हैरान रह गए... जब मुलायम सिंह यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि वो चाहते हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर प्रधानमंत्री बनें . उस वक्त मुलायम सिंह यादव के साथ ही UPA की Chairperson सोनिया गांधी भी मौजूद थीं . मुलायम सिंह यादव के इस बयान के दौरान, सोनिया गांधी के चेहरे के भाव अचानक बदल गये . मुलायम सिंह यादव, सोनिया गांधी के बगल में बैठकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा कर रहे थे . और इस दौरान सोनिया गांधी बहुत असहज नज़र आ रही थीं. 

आज की सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि ट्रिपल तलाक को खत्म करने वाला विधेयक और नागरिकता संशोधन विधेयक आज भी राज्यसभा में पेश नहीं हो पाया . ये दोनों Bill लोकसभा में Pass हो गए थे . लेकिन राज्यसभा में ये Bill... पास नहीं हो सके . इन दो Bills को मिलाकर इस सरकार के कुल 19 Bill, कानून का रूप नहीं ले पाए . अब अगर बीजेपी को ये सभी Bill पास करवाने हैं तब उसे दोबारा चुनाव जीतकर लोकसभा में बहुमत हासिल करना होगा... सरकार बनानी होगी और इसके अलावा राज्यसभा में भी बहुमत हासिल करना होगा . तभी ये Bill कानून का रूप ले पाएंगे .