कर्मचारी ने आतंकियों का किया समर्थन, लिखा- यह है सर्जिकल स्ट्राइक, कंपनी ने निकाला

पत्र में कहा गया है, "सोशल मीडिया पर राष्ट्र-विरोधी टिप्पणी से कंपनी का नाम और छवि धूमिल हुई है. 

कर्मचारी ने आतंकियों का किया समर्थन, लिखा- यह है सर्जिकल स्ट्राइक, कंपनी ने निकाला
.(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: दवा कंपनी जाइडस हेल्थकेयर ने पुलवामा आतंकी हमले को लेकर सोशल मीडिया पर राष्ट्रविरोधी टिप्पणी करने के लिए श्रीनगर में तैनात अपने एक अधिकारी को निलंबित कर दिया. जाइडस हेल्थकेयर की अनुषंगी जर्मन रेमेडीज में मार्केटिंग एक्जीक्यूटिव इकबाल हुसैन ने फेसबुक पर रियाज अहमद वानी नामक व्यक्ति के एक पोस्ट पर टिप्पणी करते हुए कहा था, "यह है असल सर्जिकल स्ट्राइक." वानी ने अपने पोस्ट में कहा था, "इसे कहते हैं सर्जिकल स्ट्राइक.." हुसैन को लिखे पत्र में जाइडस ने कहा है कि उसकी टिप्पणी राष्ट्र-विरोधी है और उससे कंपनी की छवि को नुकसान पहुंचा है.

पत्र में कहा गया है, "सोशल मीडिया पर आपकी उक्त राष्ट्र-विरोधी टिप्पणी से कंपनी का नाम और छवि धूमिल हुई है. साथ ही प्रबंधन को रोष भरी प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं और सवाल पूछा जा रहा है कि कंपनी में इस तरह का राष्ट्र-विरोधी व्यक्ति क्यों है." उसमें कहा गया है कि उक्त कार्रवाई राष्ट्र-विरोधी है और पूरी तरह से गलत आचरण को दिखाती है.

zydus-letter

जाइडस हेल्थकेयर ने कहा, "इसलिए आप उचित साक्ष्य के साथ लिखित तौर पर यह बताइए कि प्रबंधन आपकी सेवाओं को क्यों बनाए रखे. यह पत्र प्राप्त होने के 48 घंटे के अंदर अगर आपकी तरफ से स्पष्टीकरण प्राप्त नहीं होता है तो यह माना जाएगा कि आपके पास कहने को कुछ भी नहीं है .

  ऐसे में आपकी सेवाओं को तत्काल समाप्त कर दिया जाएगा." कंपनी ने कहा, "इस बीच तत्काल प्रभाव से आपकी सेवाओं को निलंबित किया जाता है."