JNPT के कामों की वजह से कोंकण क्षेत्र में रोजगार के 1.25 लाख अवसर पैदा होंगे: गडकरी

पिछले दिनों एक कार्यक्रम में नितिन गडकरी ने कहा था कि इस साल में सरकार का ध्यान विश्व स्तरीय एक्सप्रेस-वे बनाने पर होगा

JNPT के कामों की वजह से कोंकण क्षेत्र में रोजगार के 1.25 लाख अवसर पैदा होंगे: गडकरी
गडकरी ने कहा कि कोंकण क्षेत्र का नक्शा बहुत जल्द बदल जाएगा और यह वैश्विक पर्यटन स्थल बन जाएगा. (फाइल)

नई दिल्ली: केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बंदरगाहों को विकास का इंजन करार देते हुए कहा कि जवाहरलाल नेहरू पत्तन न्यास (JNPT) के विकासात्मक कार्य कोंकण क्षेत्र का नक्शा ही बदल देंगे तथा उसे वैश्विक पर्यटक स्थल बना देंगे. गडकरी ने कहा कि जेएनपीटी अनेक परियोजनाओं का विकास कर रहा है इससे इस क्षेत्र में रहने वालों के लिए रोजगार के 1.25 लाख अवसर पैदा होंगे. वे जेएनपीटी की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने जेएनपीटी-सेज में मुक्त व्यापार गोदाम क्षेत्र की आधारशिला रखी. 

पिछले दिनों एक कार्यक्रम में नितिन गडकरी ने कहा था कि इस साल में सरकार का ध्यान विश्व स्तरीय एक्सप्रेस-वे बनाने पर होगा. उन्होंने कहा कि इस साल बातचीत और अन्य कोशिशों से अधिकांश रूकी हुई परियोजनाओं को आगे बढ़ाने में मदद मिली और बैंकों की तीन लाख करोड़ रुपये से अधिक की राशि गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) में परिवर्तित होने से बचाई गई. गडकरी ने कहा, ‘सरकार के प्रयासों से 99 प्रतिशत अटकी पड़ी परियोजनाओं को पटरी पर लाने में सफलता मिली. समस्याओं और मुद्दों को सुलझाने के लिये बातचीत और लगातार बैठकों से यह संभव हो सका. इस मामले में कंपनियों को ब्लैक लिस्ट में डालने और उन्हें दोषी ठहराने के बजाय मंत्रालय ने समस्याओं को दूर करने पर ध्यान दिया. 

नितिन गडकरी ने बिहार में 3400 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का किया शिलान्यास

उन्होंने कहा कि ‘कर्ज नहीं लौटाने के और गलत काम करने वालों को बेशक दोषी ठहराया जाना चाहिये लेकिन जिन कंपनियों का पिछला रिकॉर्ड अच्छा रहा है उनके मामले में कोई कदम उठाते समय सावधानी बरती जानी चाहिये. साल 2018 में सरकार का यही प्रयास रहा है.

(इ्नपुट-एजेंसी)