close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लोकसभा चुनाव 2019: BJP ने अब तक नहीं की दौसा सीट पर उम्मीदवार की घोषणा, अब भी है असमंजस

राजस्थान की दौसा सीट में नामांकन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. यहां 6 मई को मतदान होने जा रहा है. राजस्थान की 25 सीटों में से मात्र इस सीट पर बीजेपी उम्मीदवार की घोषणा नहीं कर पाई है. 

लोकसभा चुनाव 2019: BJP ने अब तक नहीं की दौसा सीट पर उम्मीदवार की घोषणा, अब भी है असमंजस
यहां से बीजेपी सांसद रहे हरीश मीणा कांग्रेस में शामिल हो चुके हैं. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: राजस्थान के 25 सीटों में एक दौसा सीट पर उम्मीदवार का अब तक निर्णय नहीं हो सका है. इस सीट को लेकर बीजेपी नेतृत्व में अब भी असमंजस जारी है. बताया जा रहा है कि बीजेपी नेताओं की आपसी विवाद के कारण दौसा सीट पर उम्मीदवार का निर्णय हो पाया है.

राजस्थान की दौसा सीट में नामांकन प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. नामांकन की अंतिम तिथि 5 दिन में समाप्त होने जा रही है. जबकि यहां 6 मई को मतदान होने जा रहा है. राजस्थान की 25 सीटों में से मात्र इस सीट पर बीजेपी उम्मीदवार की घोषणा नहीं कर पाई है. 

बीजेपी नेताओं के बीच है आपसी विवाद
लेकिन यहां विधानसभा चुनाव के समय से ही पार्टी नेताओं के बीच विवाद चल रहा है. जिसके कारण बीजेपी अब तक इस सीट पर उम्मीदवार का निर्णय नहीं ले पाई है. माना जा रहा है कि इस विवाद के कारण यहां की कई सीटों पर बीजेपी उम्मीदवारों की हार हुई थी. वैसे यहां से बीजेपी सांसद हरीश मीणा विधानसभा चुनाव के पहले ही कांग्रेस में शामिल हो चुके है.

ये जता रहे हैं उम्मीदवारी
बताया जा रहा है कि किरोणी लाल मीणा अपनी पत्नी के लिए इस सीट से टिकट मांग रहे हैं. इसके अलावा निर्दलीय विधायक ओमप्रकाश हुड़ला अपनी दावेदारी भी पेश कर रहे हैं.  इस बीच राज्य के राजनीतिक गलियारों में अफवाहों का दौर भी जारी है.

जसकौर मीणा को प्रत्याशी बनाने की फैली थी अफवाह
पिछले बुधवार को ऐसी अफवाह फैली की पार्टी ने पूर्व सांसद जसकौर मीणा को यहां से अपना प्रत्याशी बनाया है. जिस पर बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सैनी ने कहा तरह की किसी भी जानकारी होने से इंकार किया था. मीडिया से बातचीत में उन्होंने दौसा लोकसभा सीट पर उम्मीदवार को लेकर असमंजस की बात भी स्वीकारी थी.  इससे पहले राजस्थान बीजेपी ने एक ट्वीट में जसकौर को पार्टी उम्मीदवार घोषित कर दिया था. लेकिन आनन फानन में उस ट्वीट को तत्काल हटा दिया गया. 

(इनपुट भाषा से भी)