JMM नेताओं का समर्थन मिलते ही गीता कोड़ा बोली- कोल्हान में BJP की हार निश्चित

झामुमो के समर्थन के बाद कांग्रेस प्रत्याशी गीता कोड़ा के चेहरे पर आत्मविश्वास साफ देखा जा सकता था. गीता कोड़ा ने कार्यालय उद्घाटन के साथ ही सभी घटक दलों के कार्यकर्ताओं को संबोधित कर जोश भरा और महिला कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर रणीनीति तय की. 

JMM नेताओं का समर्थन मिलते ही गीता कोड़ा बोली- कोल्हान में BJP की हार निश्चित
गीता कोड़ा को मिला जेएमएम नेताओं का समर्थन. (फाइल फोटो)

चाईबासा : सिंहभूम में कल तक महागठबंधन में छाया हुआ संशय का बादल अब छट चुका है. कांग्रेस प्रत्याशी गीता कोड़ा को अब महागठबंधन के सबसे बड़े घटक दल झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) का पूरा समर्थन मिलता नजर आ रहा है. यही वजह है कि वह ताबड़तोड़ विधानसभा स्तर पर चुनावी कार्यालय का उद्घाटन करती जा रही है.

चुनाव कार्यालयों के उद्घाटन में झामुमो के सभी पांच विधायक उनके साथ नजर आ रहे हैं. इसी क्रम में सिंहभूम लोकसभा के राजनीतिक गढ़ माने जाने वाले चक्रधरपुर में कांग्रेस के चुनावी कार्यालय का भी उद्घाटन हुआ. मौके पर चक्रधरपुर विधायक शशिभूषण सामड, चाईबासा विधायक दीपक बिरुआ और मनोहरपुर विधायक जोबा मांझी साथ नजर आए.

झामुमो के समर्थन के बाद कांग्रेस प्रत्याशी गीता कोड़ा के चेहरे पर आत्मविश्वास साफ देखा जा सकता था. गीता कोड़ा ने कार्यालय उद्घाटन के साथ ही सभी घटक दलों के कार्यकर्ताओं को संबोधित कर जोश भरा और महिला कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर रणीनीति तय की. 

गीता कोड़ा ने कहा कि महागठबंधन के सभी घटक दलों का उन्हें पूरा समर्थन मिल रहा है, जो कि उनके जीत की राह को और भी आसान बना रहा है. इसके साथ ही गीता कोड़ना ने कहा मोदी लहर जैसी कोई चीज यहां नहीं है. कोल्हान में बीजेपी की हार निश्चित है. उन्होंने बीजेपी को मुकाबले से ही बाहर बताया है. वहीं, इस दौरान झामुमो विधायक ने भी गीता कोड़ा की जीत को सुनिश्चित करार दिया है.

सिंहभूम लोकसभा के छह विधानसभा में झामुमो के पांच विधायकों का दबदबा है. ऐसे में गीता कोड़ा को जीत दिलाने के लिए झामुमो विधायकों द्वारा कमर कस लिए जाने से भाजपा की मुश्किलें जरूर बढ़ सकती है. अब देखना दिलचस्प होगा की सिंहभूम में कांग्रेस की वापसी होती है या फिर यहां एक बार फिर मोदी मैजिक चलता है.