close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लोकसभा चुनाव 2019: अब टोटके से जंग जीतेगी कांग्रेस, CM अशोक गहलोत की ऐसे उतारी गई नजर

लोकसभा चुनाव के दौरान प्रचार में उतरे कांग्रेस के नेताओं को बुरी नजर से बचाने के लिए भी कार्यकर्ताओं ने तैयारी कर ली है. राजस्थान के भीलवाड़ा में भी एक ऐसा ही वाकया हुआ.

लोकसभा चुनाव 2019: अब टोटके से जंग जीतेगी कांग्रेस, CM अशोक गहलोत की ऐसे उतारी गई नजर
राजस्थान के भीलवाड़ा की चुनावी सभा में सीएम गहलोत (फोटो साभार: ANI)

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव के दौरान प्रचार में उतरे कांग्रेस के नेताओं को बुरी नजर से बचाने के लिए भी कार्यकर्ताओं ने तैयारी कर ली है. राजस्थान के भीलवाड़ा में भी एक ऐसा ही वाकया हुआ. वहां एक चुनावी सभा के बाद सीएम अशोक गहलोत को बुरी नजर से बचाने के लिए एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं ने नींबू-मिर्च की माला पहनाई.

एएनआई के अनुसार, सोमवार को गहलोत अपने चुनावी कार्यक्रम के दौरान भीलवाड़ा पहुंचे हुए थे. एक जनसभा के बाद स्थानीय एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया. स्वागत करने के बाद उन्हें फूलों की माला पहनाने की जगह नींबू और मिर्च की माला पहना दी. इस दौरान मंच पर एनएसयूआई जिलाध्यक्ष रितेश गुर्जर, भीलवाड़ा से कांग्रेस के प्रत्याशी रामपाल शर्मा मौजूद थे. 

बीजेपी पर जमकर बोला था हमला
इससे पहले भी सोमवार को भीलवाड़ा दौरे में गहलोत ने मीडिया से बातचीत की थी. बातचीत के दौरान उन्होंने बीजेपी और मोदी पर जमकर निशाना साधा था. उन्होंने कहा था कि बीजेपी सेना का राजनीतिकरण कर रही है. जबकि कांग्रेस ने सेना के शौर्य का श्रेय उन्हें ही दिया है.

बीजेपी सरकार ने की जुमलेबाजी
गहलोत ने यह भी कहा था कि बीजेपी सरकार ने पांच साल में काम करने की जगह पर केवल जुमलेबाजी की है. चुनावी मैदान में राष्ट्रवाद की बात करने वाले बीजेपी को मुद्दों के आधार पर बातचीत करनी चाहिए.  

जोधपुर की घटना को बताया था दुर्भाग्यपूर्ण
सीएम गहलोत ने जोधपुर में हुई सांप्रदायिक हिंसा की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया था. घटना के पीछे राजनीती और वोटों के ध्रुवीकरण का प्रयास बताते हुए गहलोत ने कहा था कि इस मामले की जांच की जाएगी. साथ ही दोषियों को किसी भी हाल में नही छोड़ा जाएगा.

(इनपुट: मोहम्मद दिलशाद, भीलवाड़ा)