बीजेपी ज्वाइन करने वाले जावेद हबीब ने कहा- पार्टी कहेगी तो चुनाव जरूर लडूंगा

राजनीति में आने में बाद जावेद का मन सीधे तौर पर चुनाव लड़ने का नहीं बल्कि बीजेपी के साथ जुड़कर उनके लिए काम करने का है. जावेद का कहना है कि वह अपनी तरफ से कभी चुनाव लड़ने के लिए नहीं कहेंगे, हां अगर पार्टी उन्हें कहेगी तो इंकार भी नहीं करेंगे.

बीजेपी ज्वाइन करने वाले जावेद हबीब ने कहा- पार्टी कहेगी तो चुनाव जरूर लडूंगा

नई दिल्ली: जाने माने हेयर स्टाइलिस्ट जावेद हबीब ने बीजेपी में शामिल होने के बाद कहा है कि उन्हें पीएम मोदी के 5 साल का कामकाज पसंद आया है. इसलिए वो बीजेपी में शामिल हुए हैं. जावेद हबीब ने कहा कि वह लोगों को बालों को स्वस्छ रखने के नुस्ख़े बताते हैं, और पीएम मोदी स्वस्छ भारत अभियान चलाते है, ये सारी बातें उन्हें बीजेपी की तरफ़ खींच लाईं.

मुस्लिम बीजेपी से दूरी रखते हैं? इस सवाल के जवाब पर जावेद हबीब कहते हैं कि ये सब बनी बनाई बातें है, आप किसी से दूर नहीं रह सकते. अपने समाज और समुदाय की बातों को रखना और उनके लिए आवाज़ उठाने के लिए आपको आगे आना ही पड़ेगा.

राजनीति में आने में बाद जावेद का मन सीधे तौर पर चुनाव लड़ने का नहीं बल्कि बीजेपी के साथ जुड़कर उनके लिए काम करने का है. जावेद का कहना है कि वह अपनी तरफ से कभी चुनाव लड़ने के लिए नहीं कहेंगे, हां अगर पार्टी उन्हें कहेगी तो इंकार भी नहीं करेंगे. हालांकि मौजूदा लोकसभा चुनाव के प्रचार में वो जरूर हिस्सा बनना चाहते हैं. जावेद का मानना है कि पार्टी को अगर उनके प्रचार में उतरने से फायदा होता है तो वो इसके लिए तैयार हैं.

जावेद अपने पेशे को लेकर कहते है कि उनके पास हर समुदाय हर पार्टी से जुड़ा आदमी आता है. वह इसका राजनीति में घालमेल नहीं करेंगे वरना धंधा चौपट हो जाएगा. जब से जावेद हबीब ने बीजेपी ज्वाइन की है, तब से लगातार सोशल मीडिया पर बीजेपी के बड़े नेताओं के मीम्स भी बन रहे हैं. जावेद हबीब कहते हैं कि मैं भी इसे देख रहा हूं. पीएम मोदी से लेकर अमित शाह तक सभी के बालों को स्टाइलिश बनाकर सोशल मीडिया पर तस्वीर वायरल की जा रही हैं, मैं इसे हंसी मज़ाक ज्यादा कुछ नहीं मानता.  

राष्ट्रपति भवन में हुआ जावेद का जन्म
अपनी राजनीतिक पारी को लेकर जावेद हबीब ने कहा कि मेरा  यह पॉलिटिकल कनेक्शन नया नहीं है. बल्कि मेरे दादा जी भारत के अंतिम वॉयसराय लॉर्ड माउंटबेटन और भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के व्यक्तिगत नाई थे और उनकी पैदाइश भी राष्ट्रपति भवन में हुई.