close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: दूसरे चरण में JDU-महागठबंधन मैदान में, जेडीयू को वोट देने की बीजेपी ने की अपील

स चरण में कांग्रेस के दिग्गज नेता तारिक अनवर, आरजेडी के जयप्रकाश नारायण यादव, कांग्रेस के उदय सिंह सहित 68 उम्मीदवारों के राजनीतिक भाग्य का फैसला होना है.

 बिहार: दूसरे चरण में JDU-महागठबंधन मैदान में, जेडीयू को वोट देने की बीजेपी ने की अपील
दूसरे चरण में सभी पांच क्षेत्रों में मुख्य मुकाबला एनडीए और महागठबंधन के बीच माना जा रहा है.

पटना: लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के मतदान के लिए बिहार में सभी तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई हैं. उम्मीदवार मतदाताओं को अपने पक्ष में करने की अंतिम समय में भी हर मुमकिन कोशिश में लगे हुए हैं. दूसरे चरण में गुरुवार को बिहार की 40 लोकसभा सीटों में से पांच किशनगंज, कटिहार, पूर्णिया, बांका और भागलपुर के लिए मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे.

इस चरण में कांग्रेस के दिग्गज नेता तारिक अनवर, आरजेडी के जयप्रकाश नारायण यादव, कांग्रेस के उदय सिंह सहित 68 उम्मीदवारों के राजनीतिक भाग्य का फैसला होना है. दूसरे चरण में किशनंगज में 14, कटिहार में नौ, पूर्णिया में 16, भागलपुर में नौ और बांका में 20 उम्मीदवारों सहित कुल 68 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. 

 

बिहार के अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी संजय कुमार सिंह ने बुधवार को बताया, "बिहार में दूसरे चरण के मतदान में कुल 85़ 52 लाख मतदाता मतदान के पात्र हैं, जिनके लिए 8,644 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं." इस चरण में सर्वाधिक मतदाता 18,11,980 भागलपुर संसदीय क्षेत्र में हैं, जबकि सबसे कम 16,45,713 मतदाता कटिहार में हैं. 

सिंह ने कहा कि सभी मतदान केंद्रों पर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए जा रहे हैं. दूसरे चरण में सभी पांच क्षेत्रों में मुख्य मुकाबला एनडीए और महागठबंधन के बीच माना जा रहा है. हालांकि बांका और किशनगंज में मुकाबला त्रिकोणात्मक बनाने की कोशिश की जा रही है. 

कटिहार के मौजूदा सांसद तारिक अनवर इस चुनाव में एकबार फिर बतौर कांग्रेस प्रत्याशी कटिहार से ही चुनाव मैदान में हैं. हालांकि उन्हें एनडीए उम्मीदवार दुलारचंद गोस्वामी से कड़ी टक्कर मिल रही है. इधर, भागलपुर से मौजूदा सांसद बुलो मंडल और जेडीयू के अजय मंडल के बीच मुकाबला कांटे का है. 

मुस्लिम बहुल क्षेत्र किशनगंज से कांग्रेस ने इस चुनाव में मोहम्मद जावेद को चुनाव मैदान में उतारा है, जबकि जेडीयू ने सैयद महमूद अशरफ पर दांव लगाया है. यहां भी मुख्य मुकाबला एनडीए और महागठबंधन के बीच माना जा रहा है, परंतु असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी मजलिसे इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एमआईएम) ने अख्तरुल ईमान को अपना उम्मीदवार बनाकर चुनाव को दिलचस्प बना दिया है.

बांका से आरजेडी के जयप्रकाश नारायण और जेडीयू  गिरिधारी यादव के बीच सीधा मुकाबला माना जा रहा है, परंतु यहां बीजेपी से टिकट नहीं मिलने से नाराज पुतुल कुमारी ने भी चुनाव मैदान में उतरकर मुकाबले को त्रिकोणीय बना दिया है. पूर्णिया में बीजेपी को छोड़कर कांग्रेस में आए उदय सिंह का मुकाबला जेडीयू के संतोष कुशवाहा से है. 

दूसरे चरण के लिए सभी राजनीतिक दलों ने चुनाव प्रचार में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है. इस चरण में चुनाव प्रचार के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भागलपुर में चुनावी सभा को संबोधित कर चुके हैं. इसके अलावा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी तथा लोजपा अध्यक्ष रामविलास पासवान भी एनडीए के लिए इन क्षेत्रों में प्रचार करने पहुंचे थे. 

महागठबंधन की ओर से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा, आरजेडी नेता तेजस्वी यादव सहित कई नेता इन क्षेत्रों में चुनावी जनसभा को संबोधित कर चुके हैं. बिहार में लोकसभा चुनाव के सभी सात चरणों में मतदान होना है. पहले चरण के तहत चार लोकसभा क्षेत्रों में 11 अप्रैल को मतदान हो चुका है. 23 मई को मतों की गिनती होगी.