close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी के बाद नरेंद्र मोदी ही हैं, जिन्‍होंने ऐसा कर दिखाया

अगर आंकड़ों पर गौर करें तो पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के नेतृत्‍व में कांग्रेस पार्टी को साल 1952 में 364 सीटें हासिल हुई थीं.

जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी के बाद नरेंद्र मोदी ही हैं, जिन्‍होंने ऐसा कर दिखाया

नई दिल्‍ली : लोकसभा चुनाव 2019 में भाजपा की प्रचंड जीत के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक और रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है. अब पीएम मोदी पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू और इंदिरा गांधी की लीग में शामिल हो गए हैं. वह ऐसे कि 48 सालों के बाद कोई पार्टी लगातार दूसरी बार बहुमत से सत्‍ता पर काबिज हुई है और नरेंद्र मोदी, जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी के बाद ऐसी जीत पाने वाले पहले गैर कांग्रेसी नेता होंगे. आखिरी बार इंदिरा गांधी ने वर्ष 1971 में ऐसा प्रचंड बहुमत पाया था.

अगर आंकड़ों पर गौर करें तो पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के नेतृत्‍व में कांग्रेस पार्टी को साल 1952 में 364 सीटें हासिल हुई थीं. यह वोट शेयर 45 प्रतिशत रहा था. इसके अगले ही 1957 के लोकसभा चुनावों में उन्‍हें शानदार जीत मिली और उन्‍हें देशभर में 371 सीटें मिलीं और वोट शेयर 48 प्रतिशत रहा. भारत के इतिहास में इतना प्रचंड बहुमत अभी तक किसी को भी नहीं मिल सका है. साल 1962 में हुए लोकसभा चुनावों में भी उनके नेतृत्‍व में कांग्रेस को भारी मतों से जीत मिली. वह 361 सीटें जीते और उन्‍हें 45 प्रतिशत वोट हासिल हुए.


देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू (Jawaharlal Nehru) 

इसके बाद पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने भी रिकॉर्ड सीटों के साथ जीत का यह सिलसिला बरकरार रखा. उनके नेतृत्‍व में ही कांग्रेस ने 1967 के चुनावों में 283 सीटें जीतीं. उन्‍हें 41 प्रतिशत वोट प्राप्‍त हुए. इसके बाद लोकसभा चुनाव 1971 में उन्‍होंने 352 सीटों के साथ सरकार बनाई. यह वोट शेयर 44 प्रतिशत रहा. 


देश की एकमात्र महिला प्रधानमंत्री रहीं इंदिरा गांधी...

इसके बाद लोकसभा चुनाव 2014 में नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में भाजपा को 282 सीटों पर जीत मिली और उन्‍हें 31 प्रतिशत वोट प्राप्‍त हुए. वहीं इस बार के लोकसभा चुनावों में बीजेपी ने नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में शानदार जीत हासिल की है. भाजपा को इस चुनाव में 303 सीटों पर विजय मिली. पार्टी को देशभर से कुल 38.5 प्रतिशत वोट मिले.