2019 चुनाव: असदुद्दीन ओवैसी बोले, 'आंध्र प्रदेश में YSR कांग्रेस को समर्थन देगी AIMIM'

रमजान के दौरान प्रस्‍तावित लोकसभा चुनावों को लेकर चल रही राजनीतिक बयानबाजी पर असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि मैं लोगों से आग्रह करता हूं कि रमजान को किसी भी कारण से चुनाव से न जोड़ें. 

2019 चुनाव: असदुद्दीन ओवैसी बोले, 'आंध्र प्रदेश में YSR कांग्रेस को समर्थन देगी AIMIM'
ओवैसी ने कहा कि चुनाव आयोग हर साल कहता है कि मुस्लिम मतदाताओं का मतदान प्रतिशत कम हो रहा है.

हैदराबाद: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Elections 2019) को लेकर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्‍तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्‍यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने आंध्र प्रदेश में वाईएसआर कांग्रेस पार्टी को अपना समर्थन देने की इच्छा जाहिर की है. असदुद्दीन ओवैसी ने मंगलवार को एक रैली में कहा था कि वाईएस जगन मोहन रेड्डी की पार्टी को राज्य की 25 लोकसभा सीटों पर एआईएमआईएम का समर्थन मिलेगा. साथ ही उन्होंने लोगों से वोट जरूर डालने की अपील की.

सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि आंध्र प्रदेश की 25 लोकसभा सीटों पर एआईएमआईएम का समर्थन वाईएसआर कांग्रेस पार्टी के साथ है. उन्होंने लोगों से कहा कि आप सभी वाईएस जगन मोहन रेड्डी की पार्टी को वोट दें. साथ ही तेलंगाना से चुनाव लड़ने वाले एआईएमआईएम के उम्मीदवारों को भी वोट दें. वहीं, रमजान के दौरान प्रस्‍तावित लोकसभा चुनावों को लेकर चल रही राजनीतिक बयानबाजी पर असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि मैं लोगों से आग्रह करता हूं कि रमजान को किसी भी कारण से चुनाव से न जोड़ें. 

ओवैसी ने कहा कि इस मामले में विवाद की कोई जरूरत ही नहीं है. उन्होंने कहा कि लोगों को समझना चाहिए कि भारत में रमजान 5 मई से शुरू होकर 3 जून तक चल सकते हैं. 5 मई तक चुनाव समाप्त नहीं किए जा सकते हैं. वहीं, ओवैसी ने कहा कि चुनाव आयोग हर साल कहता है कि मुस्लिम मतदाताओं का मतदान प्रतिशत कम हो रहा है. उन्होंने कहा कि मैं अपील करता हूं कि लोग रमजान के महीने में सुबह निकलकर मतदान करें. 

उन्होंने कहा कि राजनीतिक दलों से आग्रह करता हूं कि वे किसी भी कारण से खुद के फायदे के लिए मुस्लिम समुदाय और रमजान का इस्‍तेमाल ना करें. उन्‍होंने कहा कि रमजान के दौरान मुस्लिमों के मतदान में कोई फर्क नहीं पड़ेगा. उन्होंने कहा कि मैं प्रार्थना करता हूं कि इस लोकसभा चुनाव में गैर कांग्रेसी औऱ गैर बीजेपी पार्टियां सत्ता में आएं. बता दें कि लोकसभा का चुनावी समर एक महीने से ज्यादा समय तक चलेगा. सात चरणों में 11 अप्रैल से 19 मई तक होने वाले मतदान के बाद 23 मई को मतगणना होगी.