close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बीजेपी ने उत्तर प्रदेश में 6 सांसदों के टिकट काटे, योगी के दो मंत्रियों पर लगाया दांव

बीजेपी ने मंगलवार को 39 प्रत्याशियों की एक और सूची जारी कर दी. बात उत्तर प्रदेश की करें तो वर्तमान 6 सांसदों के टिकट काटकर पार्टी ने योगी सरकार के दो मंत्रियों को लोकसभा प्रत्याशी बनाया है.

बीजेपी ने उत्तर प्रदेश में 6 सांसदों के टिकट काटे, योगी के दो मंत्रियों पर लगाया दांव
इटावा से अशोक दोहरे, कानपुर से मुरली मनोहर जोशी और रामपुर से नेपाल सिंह का टिकट काटा..

लखनऊ: बीजेपी ने लोकसभा चुनाव 2019 के लिए मंगलवार को 39 प्रत्याशियों की एक और सूची जारी कर दी. इसमें 29 प्रत्याशी उत्तर प्रदेश के जबकि 10 पश्चिम बंगाल के हैं. बात उत्तर प्रदेश की करें तो वर्तमान 6 सांसदों के टिकट काटकर पार्टी ने योगी सरकार के दो मंत्रियों को लोकसभा प्रत्याशी बनाया है. बाराबंकी से प्रियंका रावत का टिकट काटकर उपेंद्र रावत को दिया है. बहराइच से सावित्री बाई फुले के कांग्रेस में चले जाने के बाद बीजेपी ने वरिष्ठ नेता अक्षयवर गौड़ को प्रत्याशी बनाया है.

योगी सरकार के दो मंत्रियों पर लगाया दांव
पार्टी ने वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी का कानपुर से टिकट काटकर सत्यदेव पचौरी को दिया है. पचौरी प्रदेश सरकार के खादी मंत्री हैं. वहीं प्रयाग से श्यामाचरण के सपा से प्रत्याशी घोषित होने के बाद योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जोशी को टिकट दिया गया है. इस तरह से पार्टी ने योगी सरकार के दो मंत्रियों पर दांव लगाया है.

रामशंकर कठेरिया को मिला टिकट
इटावा से अशोक दोहरे का टिकट काटकर आगरा से सांसद रहे रामशंकर कठेरिया को प्रत्याशी बनाया गया है. बीजेपी की पहली लिस्ट में कठोरिया का नाम नहीं था. आखिरकार पार्टी ने उन पर भरोसा जताया है लेकिन सीट बदल दी है. कुशीनगर से राजेश पांडे का टिकट काटकर विजय दुबे को प्रत्याशी बनाया गया है. बलिया से भरत सिंह का टिकट काटकर भदोही के सांसद वीरेंद्र सिंह मस्त को टिकट दिया गया है. 

 

रामपुर से नेपाल सिंह का टिकट कटा
रामपुर से नेपाल सिंह का टिकट काटकर पूर्व सपा सांसद जया प्रदा को टिकट दिया गया है. जय प्रदा मंगलवार को ही बीजेपी में शामिल हुई थीं. देर शाम उन्हें टिकट दे दिया गया. जया प्रदा का मुकाबला सपा के वरिष्ठ नेता आजम खान से होगा. बीजेपी ने 16 साल बाद 2014 में इस सीट पर जीत हासिल की थी.  इस बार केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी और उनके बेटे वरुण गांधी की सीटों की अदला बदली कर दी है. मेनका गांधी को सुल्तानपुर और वरुण गांधी को पीलीभीत से टिकट दिया है. वर्तमान में मेनका पीलीभीत और वरुण सुल्तानपुर से सांसद हैं.

(इनपुट IANS से)