लोकसभा चुनाव 2019: बीजेपी छत्तीसगढ़ में सभी 10 मौजूदा सांसदों के काटेगी टिकट, उतारेगी नए चेहरे

बीजेपी ने आगामी लोकसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ के सभी 10 मौजूदा सांसदों की जगह नए चेहरे को उतारने का फैसला किया है. 

लोकसभा चुनाव 2019: बीजेपी छत्तीसगढ़ में सभी 10 मौजूदा सांसदों के काटेगी टिकट, उतारेगी नए चेहरे
हालिया विधानसभा चुनाव में पार्टी की हार के मद्देनजर यह फैसला किया गया है.

नई दिल्ली: बीजेपी ने आगामी लोकसभा चुनाव में छत्तीसगढ़ के सभी 10 मौजूदा सांसदों की जगह नए चेहरे को उतारने का फैसला किया है. भाजपा के महासचिव और प्रदेश प्रभारी अनिल जैन ने यह जानकारी दी. जैन ने बताया कि पार्टी ने नए उम्मीदवारों को उतारने का फैसला किया है. जैन ने कहा कि प्रदेश बीजेपी ने पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति को सांसदों के नाम काटने का प्रस्ताव दिया था, जिसे मंजूरी दे दी गई.

हालिया विधानसभा चुनाव में पार्टी की हार के मद्देनजर यह फैसला किया गया है. सूत्रों ने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह को राजनांदगांव से पार्टी का उम्मीदवार बनाए जाने की संभावना है. राज्य में लोकसभा की 11 सीटें हैं. सूत्रों ने बताया कि बीजेपी इस पर भी विचार कर रही है कि मौजूदा सांसदों के परिवार के भी किसी सदस्य चुनाव में नहीं उतारा जाए. पार्टी ने यह मानदंड अपनाया तो पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह की संभावित उम्मीदवारी भी सवालों के घेरे में आ जाएगी, क्योंकि उनके पुत्र अभिषेक सिंह वर्तमान सांसद हैं. 

इससे पहले, बीजेपी की केंद्रीय चुनाव समिति ने 10 राज्यों में सीट बंटवारे को लेकर चर्चा की. ये राज्य उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, कर्नाटक, ओडिशा शामिल हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में सीईसी की बैठक हुई. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली, नितिन गडकरी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बैठक में हिस्सा लिया. बीजेपी ने अभी तक आगामी लोकसभा के लिए कोई सूची जारी नहीं की है.

वहीं, दूसरी ओर कांग्रेस अभी तक पांच सूची जारी कर चुकी है. अभी तक कांग्रेस 137 प्रत्याशियों की सूची जारी कर चुकी है. पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को होगा. अंतिम चरण का मतदान 19 मई को होगा. 23 मई को नतीजे आएंगे. चुनाव आयोग ने सोमवार को पहले चरण के लिए अधिसूचना जारी की है. 11 राज्यों में पहले चरण का मतदान होगा. ये राज्य आंध्र प्रदेश, असम, बिहार, जम्मू एवं कश्मीर, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल हैं. इस चरण में कम से 20 राज्यों की 91 लोकसभा सीटों पर वोट डाले जाएंगे. पहले चरण के लिए नामांकन दाखिल करने की अंतिम तारीख 25 मार्च है. नामांकन दस्तावेज की जांच 26 मार्च तक होगी. 28 मार्च तक पहले चरण के नामांकन वापस लिए जा सकेंगे.