close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लोकसभा चुनाव 2019: महाराष्ट्र में मतगणना की तैयारी पूरी, 48 केंद्रों पर होगी वोटों की गिनती

देश में उत्तर प्रदेश के बाद सबसे ज्यादा 48 लोकसभा सीट महाराष्ट्र में है. उत्तर प्रदेश में 80 लोकसभा सीट हैं.

लोकसभा चुनाव 2019: महाराष्ट्र में मतगणना की तैयारी पूरी, 48 केंद्रों पर होगी वोटों की गिनती
महाराष्ट्र में 11, 18, 23 और 29 अप्रैल को चुनाव हुए. यहां कुल 867 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं.

मुंबई: महाराष्ट्र की 48 लोकसभा सीटों पर वोटों की गिनती की सारी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं, जहां दोपहर से रुझान आने शुरू होने और शाम तक अंतिम परिणाम घोषित होने की संभावना है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. राज्य में चार चरणों में कराए गए चुनाव में कुल 98,430 ईवीएम का इस्तेमाल किया गया है. राज्य के 38 स्थानों पर 48 मतगणना केंद्र बनाए गए हैं. उन्होंने बताया, ‘‘मतगणना की शुरुआत सुबह आठ बजे होगी. रुझान दोपहर तक आने शुरू होंगे और शाम चार बजे तक परिणाम आ जाएंगे.’’ 

देश में उत्तर प्रदेश के बाद सबसे ज्यादा 48 लोकसभा सीट महाराष्ट्र में है. उत्तर प्रदेश में 80 लोकसभा सीट हैं. राज्य में 11, 18, 23 और 29 अप्रैल को चुनाव हुए. यहां कुल 867 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं. अधिकारियों के अनुसार, पालघर और भिवंडी सीट में सबसे ज्यादा 35 राउंड में वोटों की गिनती होगी. इसके बाद भंडारा-गोंडिया और ठाणे में 33 राउंड में और बीड और सांगली में 32 राउंड में मतों की गिनती होगी. राज्य में चुनाव लड़ने वाले दिग्गज नेताओं में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (नागपुर), हंसराज अहीर (चंद्रपुर), सुभाष भामरे (धुले), अनंत गीते (रायगढ़) महाराष्ट्र कांग्रेस प्रमुख अशोक चव्हाण (नांदेड़) और पूर्व गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे (सोलापुर) शामिल हैं.

एक अन्य अधिकारी ने बताया, ‘‘वोटों की गिनती करनेवाले अधिकारी बिना क्रम के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के पांच ईवीएम का चयन वीवीपीएटी जांच के लिए करेंगे और अगर कोई उम्मीदवार खास ईवीएम के चयन की मांग करता है तो ऐसा किया जाएगा और बिना क्रम के चुनी गई वोटिंग मशीन को हटा दिया जाएगा.’’ उन्होंने बताया कि मतों की गिनती से संबंधित जानकारी और रुझान ceo.maharashtra.gov वेबसाइट पर उपलब्ध होगा जबकि यह 1950 टोल फ्री नंबर पर भी उपलब्ध होगा. उन्होंने बताया कि मीडिया के लिए राज्य सचिवालय में नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है.