• 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    354बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    90कांग्रेस+

  • अन्य

    98अन्य

ओडिशा के चुनावी रण में IAS-IPS से लेकर मीडिया कारोबारी तक ठोंक रहे हैं ताल

सरकारी सेवा से इस्तीफा देने वाली एक आईएएस अधिकारी अपराजिता सारंगी भुवनेश्वर लोकसभा सीट से भाजपा की प्रत्याशी हैं.

ओडिशा के चुनावी रण में IAS-IPS से लेकर मीडिया कारोबारी तक ठोंक रहे हैं ताल
फाइल फोटो

भुवनेश्वर: ओडिशा में एक साथ हो रहे लोकसभा चुनाव 2019 और विधानसभा चुनाव में कम से कम छह पूर्व नौकरशाह और आधा दर्जन मीडिया कारोबारी मैदान में हैं. हालांकि, राज्य में 11 अप्रैल को हुये पहले चरण के मतदान के दौरान कोई भी पूर्व नौकरशाह या मीडिया कारोबारी मैदान में नहीं था. अगले तीन चरणों में होने वाले चुनावों के लिए पूर्व नौकरशाहों में अपराजिता सारंगी, अरूप पटनायक, प्रकाश मिश्रा, नलिनी कांत प्रधान, सरमिष्ठा सेठी और रमेश चंद्र साई मैदान में हैं. वे पहली बार चुनाव लड़ रहे हैं. राज्य में अगले तीन चरणों में 18, 23 और 29 अप्रैल को मतदान होगा.

हाल ही में सरकारी सेवा से इस्तीफा देने वाली एक आईएएस अधिकारी अपराजिता सारंगी भुवनेश्वर लोकसभा सीट से भाजपा की प्रत्याशी हैं. उनका मुकाबला बीजद प्रत्याशी मुंबई पुलिस के पूर्व आयुक्त और सेवानिवृत्त आईपीएस अधिकारी अरूप पटनायक और माकपा के वरिष्ठ नेता जर्नादन पति से है. इसी तरह, छह मीडिया कारोबारी भी ओडिशा में चुनाव मैदान में हैं. बीजेडी के कटक लोकसभा प्रत्याशी और वर्तमान सांसद भर्तृहरि महताब उड़िया समाचार पत्र ‘प्रजातंत्र’ के संपादक हैं जबकि सौम्य रंजन पटनायक राज्य के सबसे अधिक बिकने वाले समाचार ‘संबाद’ के संपादक हैं और खंडपाडा विधानसभा सीट से क्षेत्रीय पार्टी प्रत्याशी हैं.

सौम्य रंजन पटनायक, राज्यसभा के सांसद हैं और कनक टीवी के मालिक भी हैं. चार बार सांसद रहे बैजयंत पांडा की पत्नी मंगत पांडा ओडिशा टेलीविजन लिमिटेड की सह संस्थापक हैं.