नई दिल्ली लोकसभा सीटः दिग्गजों का रहा है पुराना नाता, 2014 में रचा गया था इतिहास
Advertisement

नई दिल्ली लोकसभा सीटः दिग्गजों का रहा है पुराना नाता, 2014 में रचा गया था इतिहास

2014 में इस क्षेत्र से सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री अजय माकन 18, 2893 मतों के साथ तीसरे स्थान पर रहे थे. 

फाइल फोटो- DNA

नई दिल्ली: देश की राजधानी की सबसे पुरानी लोकसभा सीट नई दिल्ली से वर्तमान में बीजेपी की मिनाक्षी लेखी सांसद हैं. लोकसभा चुनाव 2014 में 54 साल बाद किसी महिला प्रत्याशी ने इस सीट से जीत दर्ज की थी. नई दिल्ली लोकसभा सीट से आखिरी बार जो महिला सांसद रही थीं उनका नाम सुचेता कृपलानी था. वह साल 1950 और 1957 में सांसद रहीं थीं.  

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, वरिष्ठ भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी, जगमोहन तथा फिल्म स्टार राजेश खन्ना की कर्मस्थली रह चुकी इस सीट पर मीनाक्षी लेखी ने पिछले चुनाव में आम आदमी पार्टी के आशीष खेतान को हराकर 453350 मतों से इस सीट पर कब्जा जमाया था.

15वीं लोकसभा में इस क्षेत्र से सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री अजय माकन 18, 2893 मतों के साथ तीसरे स्थान पर रहे थे. नई दिल्ली सीट पर 1952 में हुए आजाद हिंदुस्तान के पहले आम चुनाव में सुचेता कृपलानी ने किसान मजदूर प्रजा पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़कर जीत हासिल की थी. वह इस क्षेत्र की पहली महिला सदस्य थीं. सुचेता कृपलानी ने 1957 के आम चुनाव में भी यहां से जीत हासिल की लेकिन उस बार उन्होंने कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा था. इसके बाद जनसंघ के कद्दावर नेता बलराज मधोक ने इस सीट पर जीत हासिल की.

1977 में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने इस सीट से जनता पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ा और संसद में इसका प्रतिनिधित्व किया. 1980 से 1984 के बीच उन्होंने एक बार इस सीट से चुनाव जीता लेकिन इस बार भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर. 

Trending news