close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

Loksabha Election Result 2019: पीडीपी को शिकस्‍त देकर अकबर लोन ने सुरक्षित किया नेशनल कांफ्रेंस का 'बारामूला' किला

नेशनल कांफ्रेंस के मोहम्‍मद अकबर लोन ने लोकसभा चुनाव 2019 में जीत दर्ज कर पीडीपी से अपना गढ़ वापस हासिल कर लिया है. 

Loksabha Election Result 2019: पीडीपी को शिकस्‍त देकर अकबर लोन ने सुरक्षित किया नेशनल कांफ्रेंस का 'बारामूला' किला
जम्‍मू और कश्‍मीर की बारामूला सीट से नेशनल कांफ्रेंस ने 30233वोटों के अंतर से जीत दर्ज की है.

नई दिल्‍ली: लोकसभा चुनाव परिणाम 2019 अब साफ हो चुके हैं. इस चुनाव में जम्‍मू और कश्‍मीर की बारामूला संसदीय सीट से नेशनल कांफ्रेंस के मोहम्‍मद अकबर लोन ने जीत दर्ज की है. मोहम्‍मद अकबर लोन ने 133426वोट हासिल कर अपने निकटतम प्रतिद्वंदी जम्मू एण्ड कश्मीर पीपुल्स कांफ्रेस के राजा ऐजाज अली को 30233वोटों से शिकस्‍त दी है. जम्मू एण्ड कश्मीर पीपुल्स कांफ्रेस के राजा ऐजाज अली को इस चुनाव में 103193 वोट मिले हैं. वहीं, 102168वोट हासिल कर निर्दलीय उम्‍मीदवार इंजीनियर राशिद बारामूला सीट पर तीसरे पायदान पर रहे हैं. इसके अलावा, बीजेपी के उम्‍मीदवार मोहम्‍मद मकबूल वार को इस चुनाव में महज 7894 वोट मिले हैं. 

किस उम्‍मीदवार को मिले कितने वोट
लोकसभा चुनाव 2019 में बारामूला संसदीय सीट से कुल नौ उम्‍मीदवार चुनावी मैदान में थे. जिसमें जम्‍मू और कश्‍मीर नेशनल पैंथर्स पार्टी के जहांगीर खान को 4174, पीडीपी के अब्‍दुल कयूम वानी को 52801, इंडियन नेशनल कांग्रेस के हाजी फारूक अहमद मीर को 34058 और जम्मू एण्ड कश्मीर पीपुल्स कांफ्रेस के राजा ऐजाज अली को 102235 वोट हासिल हुए हैं. इस चुनाव में तीन निर्दलीय उम्‍मीदवार भी मैदान में थे. जिसमें जावेद अहमद कुरेशी को 3304, सैयद नजीब शाह नकवी को 4921 और इंजीनियर रशीद को 100080 वोट मिले हैं. बारामूला संसदीय सीट पर 7999 मतदाताओं ने नोटा का भी विकल्‍प चुना है. 

यह भी पढ़ें: Lok Sabha Election Result 2019: महज 6676 वोटों से नेशनल कांफ्रेंस ने PDP से छीनी अनंतनाग सीट

नेशनल कांफ्रेंस का गढ़ रही है बारामूला संसदीय सीट
जम्‍मू और कश्‍मीर की बारामूला को नेशनल काफ्रेंस पार्टी के गढ़ के रूप में देखा जाता रहा है. इस सीट से नेशनल कांफ्रेंस के वरिष्‍ठ नेता रहे सैफुद्दीन सोज चार बार सांसद रह चुके हैं. 1999 में बीजेपी को समर्थन देने से नाराज सैफुद्दीन सोज ने नेशनल कांफ्रेंस से इस्‍तीफा देकर कांग्रेस पार्टी ज्‍वाइन कर ली थी. सैफुद्दीन सोच वही शख्‍स है, जिनके एक वोट की वजह से 13 महीने पुरानी अटल बिहारी सरकार गिर गई थी. बीते 2014 के लोकसभा चुनाव में नेशनल कांफ्रेंस की इस विरासत को पीडीपी छीनने में कामयाब रही. इस सीट से नेशनल कांफ्रेंस के मुजफ्फर बेग को हराकर पीडीपी के मुजफ्फर हुसैन बेग ने जीत दर्ज की थी. 

यह भी पढ़ें: Lok Sabha Election Result 2019: बीजेपी के जुगल किशोर ने 3 लाख वोटों से कांग्रेस के रमन भल्‍ला को दी शिकस्‍त

बारामूला संसदीय सीट से कब-कब रहा कौन सांसद 
1967 और 1971 के लोकसभा चुनाव में सैयद अहमद आगा को बारामूला की सांसदी मिली. 1977 में नेशनल कांफ्रेंस के अब्‍दुल अहमद वकील और 1980 में ख्‍वाजा मुबारक शाह इस सीट से जीत दर्ज की. 1983 के उपचुनाव में नेशनल कांफ्रेंस के सैफुद्दीन सोज जीते. वे 1984 और 1989 भी बारामूला से सांसद रहे. 1996 में इस सीट से कांग्रेस के गुलाम रसूल चुनाव जीते. 1998में सैफुद्दीन सोज ने एक बार‍ फिर बारामूला से जीत दर्ज की.  1999 और 2004 के लोकसभा चुनाव में नेशनल काफ्रेंस के अब्‍दुल रशीद शाहीन ने जीत हासिल की. 2009 में इस सीट से नेशनल कांफ्रेंस के ही शरीफुद्दीन शारिक सांसद बने. 2014 के लोकसभा चुनाव में पीडीपी के मुजफ्फर हुसैन बेग ने 175277 वोट हासिल कर जीत दर्ज की थी. बारामूला संसदीय क्षेत्र से पीडीपी की यह पहली जीत थी.