close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मेरा PSO किसी भी वक्त मेरी हत्या कर सकता है: AAP विधायक

आप विधायक सौरभ ने साफ शब्दों में कहा कि उन्हें दिल्ली पुलिस की सुरक्षा पर तनिक भी भरोसा नहीं है. उन्होंने कहा कि सीएम केजरीवाल पर हमले के बाद भी दिल्ली पुलिस ने कोई भी ठोस एक्शन नहीं लिया, ऐसे में उनपर कैसे यकीन किया जा सकता है. 

मेरा PSO किसी भी वक्त मेरी हत्या कर सकता है: AAP विधायक
आप प्रवक्ता सौरव भारद्वाज ने अपनी जान को खतरा बताया है.

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (आप) मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा है कि उनके जान को खतरा है. उन्होंने सोमवार को कहा कि दिल्ली के अंदर मुख्यमंत्री बनने के बाद अरविंद केजरीवाल पर छह बार हमले हो चुके हैं. ऐसे में उनकी जान को भी खतरा है. आप नेता ने आशंका जताई है कि उनका पीएसओ किसी भी वक्त उनकी हत्या कर सकता है. आप विधायक सौरभ ने साफ शब्दों में कहा कि उन्हें दिल्ली पुलिस की सुरक्षा पर तनिक भी भरोसा नहीं है. उन्होंने कहा कि सीएम केजरीवाल पर हमले के बाद भी दिल्ली पुलिस ने कोई भी ठोस एक्शन नहीं लिया, ऐसे में उनपर कैसे यकीन किया जा सकता है. 

'केंद्र सरकार को लाभ पहुंचाने के लिए काम कर रहा है EC'
आप ने निर्वाचन आयोग पर लोकसभा चुनाव में बीजेपी के इशारे पर केन्द्र सरकार को लाभ पहुंचाने के लिये काम करने का आरोप लगाया है. आप के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि इस चुनाव में आयोग की कार्यशैली को देखते हुये चुनाव आयोग की निष्पक्षता पर सवाल उठ रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘आरोप लग रहे हैं कि चुनाव आयोग बीजेपी के इशारे पर केन्द्र सरकार को लाभ पहुंचाने के लिए काम कर रहा है.’

उन्होंने मतदान केन्द्रों के पीठासीन अधिकारियों की पोलिंग डायरियों में भी गड़बड़ी करने का आरोप लगाया. भारद्वाज ने कहा कि प्रत्येक मतदान केन्द्र के पीठासीन अधिकारी पोलिंग डायरी में मतदान संबंधी जरूरी जानकारी आयोग को सौंपते हैं. 

भारद्वाज ने दिल्ली में 12 मई को हुये मतदान का हवाला देते हुये कहा, ‘हमारे पास विश्वस्त सूचना है कि चुनाव के तीन दिन बाद 16 मई को लगभग 200 से 250 पीठासीन अधिकारियों को चुनाव आयोग ने बुलाकर उन सभी अधिकारियों से नए सिरे से एक पोलिंग डायरी भरवा कर उनसे हस्ताक्षर करवाये. उन्होंने आयोग द्वारा तलब किये गये पीठासीन अधिकारियों का विस्तृत ब्योरा देते हुये कहा, ‘गैर कानूनी तरीके से इन अधिकारियों को बुलाकर दोबारा पोलिंग डायरियों में गड़बड़ी करके नयी डायरियां तैयार करवाई जा रही हैं.’

आप प्रवक्ता ने कहा कि इस संबंध में साकेत के पीठासीन अधिकारी को पत्र लिखकर सूचित करा दिया है. आप नेता शनिवार को यह मामला चुनाव आयोग के समक्ष उठायेंगे.