राहुल गांधी के साथ तेजस्वी की 8 मिनट की बातचीत, जिसमें तय हो गई महागठबंधन की तस्वीर

महागठबंधन में लगातार हो रही उठापटक के बीच तेजस्वी यादव ने कल (मंगलवार को) तीन बार अपनी फ्लाइट टिकट कैंसिल कराई. 

राहुल गांधी के साथ तेजस्वी की 8 मिनट की बातचीत, जिसमें तय हो गई महागठबंधन की तस्वीर
राहुल गांधी ने फोन पर की तेजस्वी यादव से बातचीत. (फाइल फोटो)

पटना : महागठबंधन में लगातार हो रही उठापटक के बीच तेजस्वी यादव ने कल (मंगलवार को) तीन बार अपनी फ्लाइट टिकट कैंसिल कराई. पहले सुबह साढ़े छह बजे की टिकट थी, जिसे उन्होंने कैंसिल कराया क्योंकि राहुल गांधी से मिलने का वक्त तय नहीं हो सका था. उसके बाद तय हुआ कि दोपहर में दो बजे वह पटना के लिए फ्लाइट लेंगे, लेकिन फिर राहुल गांधी कार्यालय से कहा गया कि देर शाम कांग्रेस अध्यक्ष से मुलाकात होगी. इसके बाद उन्होंने देर शाम की टिकट ली, लेकिन उसे भी अंत में कैंसिल कराना पड़ा. इस बार राहुल गांधी के कार्यालय से कहा गया कि सूचना मिलते ही उन्हें बताया जाएगा. तारीख खत्म होने तक भी उनकी मुलाकात राहुल गांधी से नहीं हो सकी.

कांग्रेस पार्टी की इस रवैये से नाराज तेजस्वी यादव ने कांग्रेस के बड़े नेताओं से अपनी नाराजगी जाहिर की और कहा कि यह तरीका बिलकुल सही नहीं है. अगर ऐसा है तो मैं पटना निकल रहा हूं और आपको जो तय करना हो आप कर दीजिएगा. अब मैं आप लोगों से बात नहीं करूंगा.

तेजस्वी यादव की नाराजगी को भांपते हुए आनन-फानन में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने राहुल गांधी को यह बात फोन पर बतायी. फिर राहुल गांधी ने तुरंत तेजस्वी यादव को फोन किया और दोनों के बीच लगभग आठ मिनट की बातचीत हुई. कहा जा रहा है कि इस बातचीत में ही तमाम मसौदे को हरी झंडी मिली. उसके बाद कहीं जाकर तेजस्वी यादव शांत हुए. उनके चेहरे पर खुशी भी देखी गई.

राहुल गांधी की तरफ से खास तौर पर बिहार प्रभारी और बिहार के प्रदेश अध्यक्ष को यह संदेश दिया गया कि महागठबंधन में अब जो भी बातें होंगी, वह सिर्फ तेजस्वी यादव ही अधिकृत तौर पर करेंगे. इसलिए आज जब कांग्रेस प्रदेशा अध्यक्ष से महागठबंधन को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने साफ तौर पर कह दिया कि तमाम बातों के लिए तेजस्वी यादव को अधिकृत किया गया है.

उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव ही बता पाएंगे कि आखिर कब घोषणा करनी है और कैसे घोषणा करनी है. विश्वास सूत्रों से यह मालूम हुआ है कि अब तेजस्वी यादव इंडिगो की फ्लाइट से दिल्ली से पटना पहुंचकर तमाम गठबंधन के साथियों से पटना में मुलाकात करेंगे. फिर 22 तारीख को होली के दूसरे दिन इसकी विधिवत तौर पर घोषणा करेंगे. सीटों के बंटवारे के साथ-साथ पहले फेज के प्रत्याशियों की भी घोषणा हो जाएगी.