close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सासारम : गांव की सड़कों पर जलजमाव की स्थिति, ग्रामीणों ने किया चुनाव का बहिष्कार

ग्रामीणों का कहना है कि सड़क और नाली निर्माण को लेकर जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों से कई बार गुहार लगायी गई, लेकिन उनकी समस्याओं का समाधान नहीं हुआ.

सासारम : गांव की सड़कों पर जलजमाव की स्थिति, ग्रामीणों ने किया चुनाव का बहिष्कार
जलजमाव के कारण लोगों ने किया चुनाव का बहिष्कार.

कैमूर : लोकसभा चुनाव शुरू होते ही ग्रामीणों के बीच स्थानीय जनप्रतिनिधि और अधिकारियों के प्रति रोष देखने को मिल रहा है. लोग अपनी समस्याओं को लेकर मौजूदा जनप्रतिनिधि को नकारते हुए कैमूर जिले के कुछ गांव में वोट बहिष्कार कर रहे हैं. कुदरा प्रखंड क्षेत्र के घटेया गांव में सड़क और नाली निर्माण को लेकर ग्रामीणों ने वोट बहिष्कार का निर्णय लिया है. गांव में जलजमाव की स्थिति बनी रहती है. 

ग्रामीणों का कहना है कि सड़क और नाली निर्माण को लेकर जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों से कई बार गुहार लगायी गई, लेकिन उनकी समस्याओं का समाधान नहीं हुआ. मामले में गांव के सैकड़ों ग्रामीणों के द्वारा पोस्टर जारी किया गया. 'जब तक नाली और सड़क नहीं, तब तक वोट नहीं' की नारेबाजी की गई. ज्ञात हो कि कैमूर सासाराम लोकसभा में आता है. यहां अंतिम चरण यानी 19 मई को वोट डाले जाएंगे.

लोगों का कहना है कि बीते तीन वर्षों से गांव की मुख्य सड़क पर जलजमाव की समस्या बनी हुई है. जलजमाव के कारण लोगों को घुटने भर गंदे पानी से होकर गुजरना पड़ता है. कई बार गांव के बुजुर्ग और स्कूली बच्चे गंदे पानी में गिर जाते हैं. ऐसे में सहज अंदाजा लगाया जा सकता है कि लोगों को कितनी समस्या हो रही है.

वहीं, मोहनिया एसडीएम शिव कुमार रावत ने बताया कि हर हाल में वोटिंग प्रतिशत बढ़ाना है इसके लिए लोगों को जागरूक किया जा रहा है. लोगों की जो भी समस्या है उसका निराकरण होगा. ग्रामीण वोट का बहिष्कार न करें. ज्यादा से ज्यादा मतदान करें. जो भी समस्या होगी प्रशासन जरूर उसे दूर करेगा.

(मुकुल की रिपोर्ट)