close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बर्खास्‍त सिपाही तेजबहादुर यादव वाराणसी से लड़ेंगे चुनाव, 24 अप्रैल को करेंगे नामांकन

तेज बहादुर ने कहा आम आदमी से उन्हें समर्थन प्राप्त है, गठबंधन से भी बात हुई है और उन्होंने मुझसे समय मांगा है. कहा कि मैं फौजी हूं मुझे लालच दिया जा रहा है, लेकिन मैं पीछे हटने वाला नहीं हूं.

बर्खास्‍त सिपाही तेजबहादुर यादव वाराणसी से लड़ेंगे चुनाव, 24 अप्रैल को करेंगे नामांकन
बर्खास्‍त सिपाही तेजबहादुर यादव की फाइल फोटो.

वाराणसी: साल 2017 में बीएसएफ के जवान तेज बहादुर यादव उस समय सुर्खियों में आए जब उन्होंने सीमा पर खराब खाने का वीडियो को सोशल मीडिया में भेजने के बाद हड़कंप मचा दिया था. हरियाणा के निवासी और बीएसएफ से बर्खास्त होने के बाद तेज बहादुर यादव ने पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र से चुनावी ताल ठोक रहे है. 

तेज बहादुर यादव ने कहा कि वे सेना और पैरामिलिट्री में व्याप्त भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहे है और पीएम मोदी के खिलाफ नहीं बल्कि उन्होंने जो अधूरे वायदे किए उनके खिलाफ वाराणसी आए है. तेज बहादुर यादव 24 अप्रैल को नामांकन करेंगे और उनके नामांकन में सेना के सैकड़ों जवान और किसान, मजदूर, युवाओं का समर्थन मिलेगा.

 

उन्होंने कहा कि असली चौकीदार और नकली चौकीदार के बीच वाराणसी में अब चुनाव होगा. तेज बहादुर के साथ सेना की वर्दी में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कुछ बर्खास्त जवान है तो कुछ रिटायर्ड भी मौजूद रहे. उन्‍होंने बताया कि 24 अप्रैल को नामांकन के लिए टकसाल सिनेमा से सुबह 9 बजे अपने समर्थकों के साथ वह पैदल ही कलेक्ट्रेट पहुचेंगे. 

तेज बहादुर ने कहा आम आदमी से उन्हें समर्थन प्राप्त है, गठबंधन से भी बात हुई है और उन्होंने मुझसे समय मांगा है. कहा कि मैं फौजी हूं मुझे लालच दिया जा रहा है, लेकिन मैं पीछे हटने वाला नहीं हूं.