close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लालू परिवार को तोड़ने वालों को RJD से निकालने के लिए बनाया है 'लालू-राबड़ी मोर्चा'- तेजप्रताप

तेजप्रताप यादव ने आरजेडी के अंदर ही लालू-राबड़ी मोर्चा बनाया है.

लालू परिवार को तोड़ने वालों को RJD से निकालने के लिए बनाया है 'लालू-राबड़ी मोर्चा'- तेजप्रताप
तेजप्रताप यादव ने लालू-राबड़ी मोर्चा बनाया है.

नई दिल्लीः लालू यादव के बड़े बेटे और आरजेडी के नेता तेजप्रताप यादव ने कहा है कि लालू परिवार को तोड़ने के लिए आरजेडी के कई बड़े नेता राजनीति कर रहे हैं. ऐसे ही लोगों को आरजेडी से सफाया करने के लिए मैंने 'लालू-राबड़ी मोर्चा' बनाया है. उन्होंने आरजेडी के कई नेताओं पर आरोप लगाया है कि वह लोग तेजस्वी यादव को भड़का कर लालू परिवार को तोड़ने का काम कर रहे हैं.

तेजप्रताप यादव ने कहा कि तेजस्वी यादव को अर्जुन बताते हुए कहा कि वह मेरा हृदय है लेकिन उसके इर्द-गिर्द नेता ही सियासत कर रहे हैं. उन्होंने रामचंद्र पूर्वे का नाम लेकर कहा कि वह पार्टी में वरिष्ठ नेता हैं लेकिन वह परिवार को तोड़ने के लिए मेरे प्रति तेजस्वी यादव को भड़काते हैं. मेरे काम को रोकने के लिए शिकायत करते हैं.

उन्होंने कहा कि आरजेडी में कई ऐसे नेता हैं जो अपना स्वार्थ के लिए काम कर रहे हैं. जिसमें से कई विधायक और पार्टी के ऊंचे पदों पर बैठे हैं. लेकिन अब उन्होंने ऐसे ही लोगों के सफाये के लिए 'लालू-राबड़ी' मोर्चा बनाया है. जो ऐसे लोगों को सफाया करेगा. उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव समझदार हैं लेकिन उन लोगों की वजह से उनके आखों पर पर्दा आ गया है. वहीं, मां राबड़ी देवी को भी सजग रहने की बात कही. उन्होंने कहा कि उनकी बात सभी लोगों को बाद में समझ आएगी.

लोकसभा चुनाव में आरजेडी द्वारा टिकट दिए जाने पर भी उन्होंने सवाल उठाया कि जो लोग खून पसीने से पार्टी को सीचने का काम कर रहे हैं, उन्हें टिकट नहीं दिया गया. इसलिए तेजप्रताप यादव उनके लिए खड़ा हो गया है और पार्टी में अलग मोर्चे को तैयार कर रहा है. उन्होंने कहा कि जनता दरबार कर हर क्षेत्र में घुमकर मैंने कैंडिडेट चुना है. शिवहर और जहानाबाद में जनता की मांग के बाद ऐसे उम्मीदवार का नाम दिया था लेकिन फिर भी इसपर राजनीति की गई.

सारण सीट को लेकर उन्होंने साफ किया है कि यह उनकी पुश्तैनी सीट है इस सीट पर किसी भी हाल में वह बाहरी लोगों को चुनाव नहीं लड़ने देंगे. उन्होंने अपनी मां राबड़ी देवी से अपील करते हुए कहा कि वह इस सीट पर चुनाव लड़ें. साथ ही कहा कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो वह निर्दलीय सारण से चुनाव लड़ने को तैयार हैं.

बहरहाल तेजप्रताप यादव ने आरजेडी के अंदर ही अलग मोर्चा खोल दिया है. उन्होंने 'लालू-राबड़ी मोर्चा' बनाकर पार्टी में बगावत शुरू कर दी है.