• 542/542 लक्ष्य 272
  • बीजेपी+

    354बीजेपी+

  • कांग्रेस+

    89कांग्रेस+

  • अन्य

    99अन्य

करीमनगर लोकसभा: टीआरएस के गढ़ को भेदने की चुनौती, कांग्रेस को कड़ी टक्कर

तेलंगाना की करीमनगर लोकसभा सीट पर राज्य की सत्ताधारी पार्टी तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) राज़ है.

करीमनगर लोकसभा: टीआरएस के गढ़ को भेदने की चुनौती, कांग्रेस को कड़ी टक्कर
करीमनगर सीट से टीआरएस के उम्मीदवार बी. विनोद कुमार. (फोटो साभार: सोशल मीडिया)

करीमनगर: तेलंगाना की करीमनगर लोकसभा सीट पर राज्य की सत्ताधारी पार्टी तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) राज़ है. टीआरएस ने इस बार भी मौजूदा सांसद विनाद कुमार बोयनापल्ली (B. Vinod Kumar) पर विश्वास जताया है. लोकसभा चुनाव 2019 में टीआरएस के किले को भेदने की चुनौती कांग्रेस के पोनम प्रभाकर (Ponnam Prabhakar) के पास है. बीजेपी ने भी विपक्षी दल की भूमिका निभाते हुए संजय कुमार (Bandi Sanjay) को चुनाव लड़वाया है. इस सीट पर 11 अप्रैल को पहले चरण में मतदान हो चुका है. अब देखना यह होगा कि 23 मई को मतगणना में किस प्रत्याशी को फतह मिलेगी?

दरअसल, तेलंगाना की सभी 17 सीटों पर पहले चरण यानी 11 अप्रैल को वोटिंग हो चुकी है. 10 मार्च को लोकसभा चुनावों की घोषणा के बाद 18 मार्च को यहां नोटिफिकेशन निकाला गया और 25 मार्च को नॉमिनेशन की अंतिम तारीख घोषित की गई. इसके बाद 26 मार्च को प्रत्याशियों के नामों पर अंतिम मुहर लगाई गई और 11 अप्रैल को वोटिंग हुई.

2014 के लोकसभा चुनाव में करीमनगर सीट से बी विनोद कुमार ने जीत हासिल की थी. टीआरएस के इस नेता ने पोनम प्रभाकर को हाराया था. वहीं, इस संसदीय क्षेत्र में बीजेपी के विद्या सागर राव तीसरे स्थान पर रहे थे. विनाद कुमार को यहां 5,05,783 वोट मिले थे जबकि पोनम को 3,00,706 मत हासिल हुए थे. इसके अलावा  विद्या सागर राव 2 लाख 14 हजार 828 मत प्राप्त कर तीसरे स्थान पर रहे.

करीमनगर संसदीय क्षेत्र में सात विधानसभा सीटें आती हैं, जिनमें चोप्पाडांडी और मानाकोन्डुर सीट अनुसूचित जातियों के लिए सुरक्षित हैं जबकि करीमनगर, वेमुलवाडा, सिरसिल्ला, हुजूराबाद और हुस्नाबाद सीटें अनारक्षित हैं. मौजूदा वक्त में सभी सात विधानसभाओं पर टीआरएस का कब्जा है.  

तेलंगाना भारत के आंध्रप्रदेश राज्य से अलग होकर भारत का 29वां राज्य बना था. दोनों राज्यों की संयुक्त राजधानी हैदराबाद है. राज्य में मुख्यमंत्री के. चन्द्रशेखर राव की अगुवाई में टीआरएस पार्टी की सरकार है. इस राज्य में 119 विधानसभा सीटें और 17 लोकसभा सीटें हैं. वहीं प्रदेश में कुल जिलों की संख्या 31 है.