close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लोकसभा चुनाव 2019: बिहार में तीसरे चरण की वोटिंग खत्म, 59.96 प्रतिशत हुआ मतदान

बिहार के पांच सीटों पर लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया शाम छह बजे तक पांचों सीट पर कुल मिलाकर 59.96 प्रतिशत मतदान हुआ. 

लोकसभा चुनाव 2019: बिहार में तीसरे चरण की वोटिंग खत्म, 59.96 प्रतिशत हुआ मतदान
बिहार के पांच सीटों पर लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया.

पटना: बिहार में लोकसभा चुनाव 2019 के तीसरे चरण का मतदान खत्म हुआ. बिहार के पांच सीटों पर लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया. शाम छह बजे मतदान खत्म होने तक पांचों सीट पर कुल मिलाकर 59.96 प्रतिशत मतदान हुआ. 

सुपौल में सबसे अधिक 62.80 प्रतिशत वोट डाले गए हैं. झंझारपुर में 56.92, अररिया में 62.34 प्रतिशत, मधेपुरा में 59.12 प्रतिशत और खगड़िया में 58.83 प्रतिशत मतदान हुआ.

तीसरे चरण में सुरक्षा के लिहाज से पुख्ता इंतजाम किए गए थे. भारत-नेपाल सीमा भी सील कर दी गई . पांच लोकसभा सीटों पर 82 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा. इनमें 77 पुरुष और सिर्फ 5 महिला प्रत्याशी शामिल हैं. झंझारपुर में 17, सुपौल में 20, अररिया में 12, मधेपुरा में 13 और खगड़िया में 20 उम्मीदवार चुनावी दंगल में शामिल हैं.

2014 के मुकाबले 2019 लोकसभा चुनाव में कम वोटिंग हुई है. 2019 में औसत 59.62 है तो वहीं 2014 लोकसभा चुनाव में यह आंकड़ा 60.22 प्रतिशत था. झंझारपुर में 56.42 फीसदी, मधेपुरा में 59.96 फीसदी, खगड़िया में 59.46, सुपौल में 63.62 और अररिया में 61.48 प्रतिशत मतदान हुआ था. 

 

तीसरे चरण में चुनाव कुल मिलाकर शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुआ. छिटपुट घटनाओं की बात करें तो मधुबनी में मतदाता सूची से 400 वोटर्स के नाम गायब पाए गए. वोटर लिस्ट में नाम नहीं होने से नाराज लोगों ने खुटौना बीडीओ का घेराव और प्रदर्शन किया. लोगों का आरोप है कि साजिश के तहत सभी का नाम लिस्ट से हटा दिया गया है.

मधेपुरा में मुकाबला त्रिकोणीय 
तीसरे चरण में मधेपुरा में त्रिकोणीय मुकाबले की स्थिति बन रही है. इस सीट पर राष्‍ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के शरद यादव, जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के दिनेश चंद्र यादव और मौजूदा सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव के बीच मुकाबला है. बाकी चार सीटों पर आमने-सामने की लड़ाई की स्थिति बन रही है.

झंझारपुर, सुपौल, अररिया और खगड़िया में बराबर की लड़ाई 
झंझारपुर में जेडीयू के रामप्रीत मंडल और आरजेडी के गुलाब यादव के बीच टक्कर होगी. हालांकि, निर्दलीय देवेंद्र प्रसाद यादव भी मुकाबले में तीसरा कोण बनाने की कोशिश में हैं. सुपौल में जेडीयू के दिलेश्वर कामत और कांग्रेस की रंजीत रंजन आमने सामने हैं. अररिया में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के प्रदीप सिंह और आरजेडी के सरफराज आलम के बीच मुकाबला होने की संभावना है. खगडिय़ा में लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के महबूब अली कैसर और विकासशील इंसान पार्टी (वीआइपी) के मुकेश सहनी के बीच लड़ाई की स्थिति बन रही है.