close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

शादी के कार्ड पर अनोखे ग‍िफ्ट की मांग, 2019 लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी को वोट दें

शादी का कार्ड पहली नजर में देखने पर एक सामान्‍य शादी कार्ड की तरह ही दिखता है, लेकिन जैसे ही आपकी नजर इसमें नीचे की ओर जाती है, तो आपकी नजरें वहां ठहर जाएंगीं. इस शादी के कार्ड पर बाकायदा शादी में शामिल होने वाले से गिफ्ट के रूप में बीजेपी को वोट देने की बात कही गई है.

शादी के कार्ड पर अनोखे ग‍िफ्ट की मांग, 2019 लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी को वोट दें

सूरत : लोकसभा चुनावों में 100 दिन से भी कम का समय बचा है. जाहि‍र है देश एक बार फि‍र से चुनावी रंग में रंगने जा रहा है. लेकिन उससे पहले ही एक शादी ऐसी है जिस पर चुनावी रंग दिखाई दे रही है. गुजरात के सूरत में होने वाली इस शादी का कार्ड पहली नजर में देखने पर एक सामान्‍य शादी कार्ड की तरह ही दिखता है, लेकिन जैसे ही आपकी नजर इसमें नीचे की ओर जाती है, तो आपकी नजरें वहां ठहर जाएंगीं. इस शादी के कार्ड पर बाकायदा शादी में शामिल होने वाले से गिफ्ट के रूप में बीजेपी को वोट देने की बात कही गई है.

हाल फिलहाल में ये दूसरा शादी का कार्ड है, जिस पर बीजेपी के लिए वोट देने की अपील की गई है. इस शादी के कार्ड में तो बाकायदा ये भी कहा गया है कि उन्‍हें शादी के गिफ्ट के रूप में पीएम मोदी के लिए वोट चाहिए. सूरत में युवराज और साक्षी की शादी में गिफ्ट के रूप में बीजेपी के लिए वोट मांगा गया है. इसके अलावा यह भी कहा गया है कि आप नमो एप के जरिए बीजेपी को दान दीजिए यही हमारा गिफ्ट होगा.

कहानी यहीं खत्‍म नहीं होती है. जैसे ही आप कार्ड के अगले पेज पर जाते हैं तो आपको शादी की बजाए राफेल डील संबंधित फैक्‍ट्स लिखे मिलते हैं. इसमें लिखा है, शांति रखिए और नमो पर भरोसा रखिए. इस कार्ड पर प्‍वाइंट से समझाया गया है कि सरकार ने इस डील में रिलायंस को क्‍यों शामिल किया. इसके अलावा ये भी बताया गया है कि एचएएल को इस कॉन्‍ट्रेक्‍ट से तो यूपीए ने ही बाहर किया था. इससे पहले भी सूरत में धवल और जया की शादी के कार्ड में इसी तरह बीजेपी के लिए वोट की मांग की गई थी.

राजस्थान में भी मांगा गया था PM मोदी के लिए वोट
इससे पहले राजस्थान के टोंक जिले में एक शादी के लिए बांटी गई शादी के कार्ड की तस्वीर वायरल हुई थी. इस कार्ड की खास बात यह थी कि शादी के गिफ्ट में लोगों से 2019 के लोकसभा चुनाव के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में वोट मांगा गया. इसके अलावा शादी के इस कार्ड के लिफाफे के उपर 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' का स्लोगन भी लिखा हुआ था. यह वेडिंग कार्ड टोंक जिले के अलावा पूरे राज्य में सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बन गया था.

परिवार का राजनीति से कोई नहीं है वास्ता
जिले के गांव सोडा बावड़ी के भंवरलाल राजेश सोनी की बेटी की 22 जनवरी को शादी होने जा रही हैं. सोनी ने बिटिया रूचिका (मेघा) की शादी के छपवाए कार्ड में मेहमानों से आशीर्वाद में PM नरेंद्र मोदी को वोट देने की मांग की हैं. जबकि ऐसा नहीं है कि परिवार से कोई राजनीति में है या यह परिवार भाजपा पार्टी से सक्रिय जुड़ा हुआ है. लेकिन पीएम नरेंद्र मोदी की नीति और विचारों से प्रेरित होकर इन लोगों ने यह कार्ड छपवाया है.