close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

दो विदेशी लड़कियों के कारण जामा मस्जिद में हुआ कुछ ऐसा, जिसकी चर्चा हर जगह हो रही है

हालही में दो विदेशी लड़कियों ने जामा मस्जिद में नमाज पढ़ने वाले कक्ष के पास डांस करते हुए टिक-टॉक वीडियो बनाया था, जो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था. 

दो विदेशी लड़कियों के कारण जामा मस्जिद में हुआ कुछ ऐसा, जिसकी चर्चा हर जगह हो रही है
फोटो साभार : ट्विटर/@AbdulRa02818732

नई दिल्ली : इन दिनों सोशल मीडिया पर वीडियो मेकिंग ऐप टिक-टॉक की काफी चर्चा हो रही है. मद्रास हाईकोर्ट द्वारा टिक-टॉक को बैन करने के बाद जामा मस्जिद में टिक-टॉक के वीडियो बनाने पर बैक लगा दिया गया है, यानि की अब आप जब जामा मस्जिद जाएंगें तो टिक-टॉक के वीडियो शूट नहीं कर पाएंगे. दरअसल, जामा मस्जिद प्रशासन की ओर से इस ऐप को बैन करने का फैसला दो विदेशी लड़कियों के कारण लिया गया है. 

बता दें कि हालही में दो विदेशी लड़कियों ने जामा मस्जिद में नमाज पढ़ने वाले कक्ष के पास डांस करते हुए टिक-टॉक वीडियो बनाया था, जो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था. नमाज पढ़ने की जगह पर इस तरह का डांस सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मस्जिद प्रशासन की ओर से टिक-टॉक वीडियो पर बैन लगा दिया गया है. देखिए वीडियो...

 

जामा मस्जिद में लगाया गया बोर्ड
अब जामा मस्जिद के अंदर सिविल डिफेंस के मेम्बर 55 साल के कैफियत खान लोगों पर नज़र रखे हुए हैं. उनका काम है मस्जिद के अंदर तस्वीर और वीडियो बनाने वालों को रोकना. उन्होंने बताया कि मस्जिद में लड़कियों का डांस वीडियो के वायरल हो जाने के बाद अब किसी को भी यहां वीडियो बनाने की इजाजत नहीं है.

जामा मस्जिद घूमने आने वाले लोग यहां किसी तरह के वीडियो और फोटो न खींच सके, इसके लिए प्रशासन की ओर से एक बोर्ड लगाया गया है. जामा मस्जिद में वीडियो शूटिंग पर बैन लगने की चर्चा इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब हो रही है. यूजर्स का कहना है कि वैसे भी इंसान भगवान के दरबार में अपनी दुओं को कुबूल करने के लिए जाता है, ऐसे में मोबाइल, फोटो और वीडियो को कुछ पलों के लिए दूर ही रखा जाए तो अच्छा है.