close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पुलवामा हमला : पाक सेना की भारत को गीदड़भभकी, कहा- 'हम गुजरे हुए कल की फौज नहीं'

 मेजर जनरल आसिफ गफूर ने मीडिया को संबोधित करते हुए पाकिस्‍तान के इस हमले में किसी भी तरह से होने से साफ इनकार किया, बल्कि भारत को धमकी देते हुए कहा कि हम जंग की तैयारियां नहीं कर रहे. जंग की धमकियां आपकी तरफ से आ रही हैं. 

पुलवामा हमला : पाक सेना की भारत को गीदड़भभकी, कहा- 'हम गुजरे हुए कल की फौज नहीं'
पाकिस्‍तान आर्मी के प्रवक्‍ता और इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (ISPR) के महानिदेशक मेजर जनरल आसिफ गफूर (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली/इस्‍लामाबाद : जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में पाकिस्‍तान समर्थित जैश-ए-मोहम्‍मद द्वारा सीआरपीएफ जवानों पर किए गए आतंकी हमले के आरोप लगने के बाद बौखलाए पाकिस्‍तान ने शुक्रवार को एक बार फिर भारत को गिदड़भभकी दी. पाकिस्‍तान आर्मी के प्रवक्‍ता और इंटर-सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (ISPR) के महानिदेशक मेजर जनरल आसिफ गफूर ने मीडिया को संबोधित करते हुए पाकिस्‍तान के इस हमले में किसी भी तरह से होने से साफ इनकार किया, बल्कि भारत को धमकी देते हुए कहा कि हम जंग की तैयारियां नहीं कर रहे. जंग की धमकियां आपकी तरफ से आ रही हैं. 

ये भी पढ़ें- पाकिस्‍तान की तरफ से आया जवाब, 'अगर भारत ने PAK की तरफ नदियों का पानी रोका तो...'

 

उन्‍होंने आगे कहा कि 'हम जंग की पहल करने की तैयारी नहीं कर रहे, लेकिन अपनी रक्षा करना हमारा हक है. हम गुजरे हुए कल की फौज नहीं है. अगर भारत ने कोई भी आक्रामक तेवर दिखाए तो हम भी जवाबी कार्रवाई करेंगे. 

उन्‍होंने कहा कि जिस वक्‍त पुलवामा में हमला हुआ, उस दौरान 8 ऐसे बेहद जरूरी इवेंट हो रहे थे, जो या तो पाकिस्‍तान में हो रहे थे, या उससे जुड़े थे. 

उसमें सऊदी प्रिंस का पाक दौरा, यूएनएससी में आतंकवाद पर बात होना, यूएन में कश्‍मीर के मुद्दा, कुलभूषण जाधव केस की अंतरराष्‍ट्रीय अदालत में सुनवाई और करतारपुर बॉर्डर की डेवलपपमेंट पर बैठक प्रमुख थे. सोचने की बात है कि ऐसे हालात में कैसे पाकिस्‍तान ऐसी किसी घटना में शामिल हो सकता है. पाकिस्‍तान को इससे क्‍या फायदा हो सकता है. अगर हम ऐसी घटना भी करते हैं, तो हमें इसका नुकसान होता. 

ये भी पढ़ें- पाकिस्तान ने LoC के पास रहने वाले PoK के ग्रामीणों के लिए जारी की एडवाइजरी

उन्‍होंने आगे कहा कि ''लाइन ऑफ कंट्रोल पर सुरक्षा बलों पर लेयर डिफेंस सिस्‍टम है. कैसे हो सकता है कि पाक की तरफ से कोई भी शख्‍स घुसपैठ करे. जिस गाड़ी को इस्‍तेमाल किया गया, वह पाकिस्‍तान से नहीं गई. इस घटना का हमलवार एक कश्‍मीरी था'. 

पाकिस्‍तान आर्मी के प्रवक्‍ता ने कहा कि अब हममें सब्र है. हमने पाकिस्‍तान में अल-कायदा के खात्‍मे के लिए अमेरिकी फौजों की मदद की. पाकिस्‍तान ने इस वाकये के बाद पहले सोचा और जांच की. हमारे पीएम ने भारत को जो ऑफर दिए हैं, वह आज तक नहीं दिए गए. पीएम इमरान ने कहा कि आप हमें सबूत दें और अगर वह सही निकला तो हम दोषियों के खिलाफ कड़े कदम उठाएंगे'.