close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

B'day Special: IPL के इस धमाकेदार बल्लेबाज का टीम इंडिया में नहीं चल सका जादू

B'day Special टीम इंडिया में मनीष पांडे को कई बार अवसर मिले लेकिन वे अपनी प्रतिभा के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर सके, वहीं आईपीएल में वे हमेशा ही उम्मीदों पर खरे उतरे. 

B'day Special: IPL के इस धमाकेदार बल्लेबाज का टीम इंडिया में नहीं चल सका जादू
मनीष पांडे िस समय इंडिया ए टीम के कप्तान हैं. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट के अहम और होनहार खिलाड़ी मनीष पांडे  (Manish Pandey) मंगलवार को अपने जन्मदिन की 30वीं सालगिरह मना रहे हैं. पिछले कई सालों में आईपीएल (Indian Premier League) में एक खास खिलाड़ी के तौर पर अपनी पहचान बनाने वाले मनीष को उनकी प्रतिभा के अनुरूप अवसर नहीं मिले तो कहना गलत नहीं होगा. यह संयोग ही कहें या कुछ और कि वे टीम इंडिया (Team India) के लिए संभावितों में तो अक्सर ही रहे, लेकिन जब कभी जगह भी बनाई तो निरंतरता और टीम प्रबंधन के साथ चयनकर्ताओं को विश्वास हासिल न कर सके.

अब मिल रहे हैं मनीष को मौके
लेकिन विश्व कप 2019 के बाद कहानी कुछ बदलती दिख रही है. विश्व कप के बाद टीम इंडिया के पहले दौरे पर मनीष इंडिया ए टीम के कप्तान के तौर पर तो वहां खेले ही इसके बाद उन्होंने टी20 सीरीज में खेलने का मौका मिला. टी20 सीरीज में वे हालांकि कुछ खास नहीं कर सके, लेकिन इस बार चयनकर्ताओं ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज में एक मौका और दिया है. इसकी वजह मनीष का इंडिया ए टीम का प्रदर्शन भी है जिसके वे इस समय कप्तान भी हैं.

यह भी पढ़ें: एशेज गंवाने से जो रूट हुए निराश, कहा- ‘एक आदमी ने ही पैदा किया फर्क’

आईपीएल शतक के 6 साल बाद खेल पहला वनडे
कर्नाटक की ओर से घरेलू क्रिकेट खेलने वाले मनीष ने टीम इंडिया के लिए पहला वनडे मैच 2015 में जिम्बाब्वे के खिलाफ हरारे में खेला था. मनीष ने अब तक 23 वनडे मच खेले हैं. इनमें से 18 पारियों में  उन्होंने 36.66 के औसत और 91.85 के स्ट्राइक रेट के साथ कुल 440 रन बनाए हैं. उनके नाम एक शतक और दो हाफ सेंचुरी भी हैं. वहीं 31 टी20 इंटरनेशनल्स की 26 पारियों में मनीष ने 37.66 के औसत और 1211.50 के स्ट्राइक रेट से 565 रन बनाए हैं इनमें 11 बार वे नॉट आउट रहे हैं और दो बार हाफ सेंचुरी भी लगाई है.  

ऑस्ट्रेलिया में वह शानदार बल्लेबाजी
टीम इंडिया के लिहाज से बात की जाए तो मनीष का 2016 की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीबी सीरीज के आखिरी मैच में केवल 81 गेंदों में 104 रन की नाबाद पारी खेलकर टीम इंडिया को जीत दिलाई थी. इस पारी में उन्होंने 8 चौके और एक छक्का लगाया था.यह उनके करियर के इकलौती सेंचुरी है. इसके बाद कुछ मौके उन्हें मिले लेकिन वे उन्हें भुना नहीं सके. हां वे इंडिया ए टीम के खिलाड़ी और कप्तान दोनों के तौर पर बहुत सफल रहे. 

आईपीएल में 2009 में लगाया था शतक
मनीष पांडे आईपीएल में शतक लगाने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी हैं. उन्होंने साल 2009 में रॉयल चैलेंजर बेंगलुरू के लिए डेक्कन चार्जर्स के खिलाफ शानदार नाबाद 114 रन की पारी खेल कर सुर्खियां बटोरी थीं. इस शतक के साथ ही वे आईपीएल में सेंचुरी ठोकने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए. इसके बाद वे पूणे वारियर्स, कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए खेले. कोलकाता के लिए खेलते हुए मनीष ने काफी शानदार पारियां खेली और वे हमेशा ही चर्चा में रहे.  2018 में उन्हें सनराइजर्स हैदराबाद में 11 करोड़ में खरीदा और वे टीम के सबसे महंगे खिलाड़ी बने. इसके बाद हैदराबाद ने उन्हें 2019 में रीटेन भी किया.