close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाकिस्तानी क्रिकेटरों का खाना हुआ मुहाल; कोच ने बिरयानी, मिठाई... पर लगाया बैन

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम आईसीसी विश्व कप के दौरान खराब फिटनेस से जूझती नजर आई थी. 

पाकिस्तानी क्रिकेटरों का खाना हुआ मुहाल; कोच ने बिरयानी, मिठाई... पर लगाया बैन

लाहौर: अगर आप पाकिस्तानी क्रिकेट (Pakistan Cricket) पर बारीक नजर रखते हैं तो आपको सरफराज अहमद (Sarfaraz Ahmed) से जुड़ा एक वीडियो याद होगा. इस वीडियो में पाकिस्तानी क्रिकेट टीम का एक प्रशंसक अपने ही कप्तान सरफराज को लताड़ रहा है. प्रशंसक कह रहा है कि वे (सरफराज) और उनके खिलाड़ी ‘पिज्जा और बर्गर’ खाने में व्यस्त रहते हैं, इसलिए उनसे भारतीय टीम को हराने की उम्मीद ही गलत है. अब प्रशंसक की इस बात की सच्चाई का तो पता नहीं, लेकिन पाकिस्तान के नए कोच ने शायद इसे ज्यादा ही गंभीरता से ले लिया है. 

पूर्व कप्तान मिस्बाह उल हक (Misbah ul Haq) ने हाल ही में पाकिस्तान के मुख्य कोच और चयनकर्ता की जिम्मेदारी संभाली है. उन्होंने कोच बनते ही टीम में बड़े बदलाव का ऐलान किया है. यह ऐलान खिलाड़ियों के खाने से जुड़ा है. मिस्बाह ने घरेलू टूर्नामेंट और नेशनल ट्रेनिंग कैंप में भाग ले रहे खिलाड़ियों के डाइट प्लान को पूरी तरह से बदलने का फैसला किया है.

यह भी पढ़ें: कश्मीर: मलाला के बयान पर भारतीय शूटर का पलटवार, पहले खुद पाकिस्तान लौटकर दिखाओ

अब पाकिस्तान के घरेलू सत्र के दौरान और नेशनल ट्रेनिंग कैंप में क्रिकेटरों को ज्यादा तेल-मसाले वाला खाना नहीं मिलेगा. मिस्बाह उल हक (Misbah-ul-Haq) ने साफ कह दिया है कि फिटनेस के साथ किसी तरह का समझौता नहीं किया जाएगा. रिपोर्ट के मुताबिक मिस्बाह ने खिलाड़ियों के डाइट प्लान से बिरयानी, ज्यादा तेल-मसाले वाला खाना और मिठाई को हटाने का फैसला किया है. इसमें रेट मीट से जुड़ा खाना भी शामिल है. 

यह भी देखें:

मिस्बाह को हाल में ही पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने मुख्य कोच और मुख्य चयनकर्ता नियुक्त किया है. वकार यूनुस टीम के गेंदबाजी कोच बनाए गए हैं. इनका कार्यकाल तीन साल का है. मिस्बाह ने 2017 में क्रिकेट को अलविदा कहा था. उन्होंने 75 टेस्ट, 162 वनडे और 39 टी20 मैच खेले हैं.