दानिश कनेरिया ने सामने रखा PAK क्रिकेट का काला सच, कहा- शोएब सही हैं, हिंदू हूं इसलिए....

 पाकिस्तानी क्रिकेटर दानिश कनेरिया ने पाकिस्तान क्रिकेट का काला सच उजागर किया है और पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर के उस बयान का समर्थन किया है जिसमें उन्होंने कहा था कि कनेरिया के साथ टीम के खिलाड़ी दुर्व्यवहार करते थे. 

दानिश कनेरिया ने सामने रखा PAK क्रिकेट का काला सच, कहा- शोएब सही हैं, हिंदू हूं इसलिए....

नई दिल्ली: पाकिस्तानी क्रिकेटर दानिश कनेरिया ने पाकिस्तान क्रिकेट का काला सच उजागर किया है और पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर के उस बयान का समर्थन किया है जिसमें उन्होंने कहा था कि कनेरिया के साथ टीम के खिलाड़ी दुर्व्यवहार करते थे. इतना ही नहीं कनेरिया के साथ टीम के साथी खिलाड़ी खाना तक नहीं खाते थे. वजह मजहबी दीवार थी. कनेरिया के हिंदू होने के चलते पाकिस्तान टीम के खिलाड़ी उनके साथ खाना नहीं खाते है. पाकिस्तान क्रिकेट का काला सच यही है. 

कनेरिया ने न्यूज एजेंसी ANI से कहा, "शोएब अख्तर ने जो कहा, सही कहा है. मैं अब उन खिलाड़ियों के नाम का खुलासा करूंगा जो मेरे खाना नहीं खाते थे क्योंकि मैं हिंदू हूं. मेरे पास इस सच्चाई को सामने रखने का साहस नहीं था लेकिन अब मैं सच चुप नहीं रहूंगा." 

पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर अत्याचार की खबरें आती रहती हैं. पूरी दुनिया में उसकी आलोचना हो रही है. लेकिन अल्पसंख्यकों के खिलाफ यह अत्याचार और दुर्व्यवहार खेल जगत में भी मौजूद है, इसकी कोई कल्पना नहीं कर सकता. पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने एक चैट शो में दानिश कनेरिया के साथ होने वाले दुर्व्यवहार का सनसनीखेज खुलासा किया. 

 

 

शोएब ने कहा, "दानिश कनेरिया हिंदू थे इसलिए पाकिस्तानी टीम में उनके साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया जाता था. उनके साथ नाइंसाफी हुई और टीम के खिलाड़ी यहां तक कहते थे कि दानिश कनेरिया उनके साथ खाना क्यों खाते हैं?" यह वीडियो अब इंटरनेट पर वायरल हो रहा है. वीडियो में शोएब कहते हैं कि जब साथी खिलाड़ी टीम में हिंदू-मुस्लिम पर चर्चा करते थे तो मुझे बहुत गुस्सा आता था.

शो में शोएब ने सनसनीखेज खुलासा करते हुए कहा, "जो अपने करियर में मेरा साथी खिलाड़ियों से झगड़ा हुआ, वह हिंदू-मुस्लिम का भेद करने वालों के साथ हुआ. इन बातों से मुझे बहुत गुस्सा आता था. कोई हिंदू है तो वह भी टीम में खेलेगा. और उसी हिंदू (दानिश कनेरिया) ने टेस्ट सीरीज जिताई, तो मैंने साथी खिलाड़ियों से कहा - अब उनके पास क्या जवाब है? मेरे साथी खिलाड़ियों को ऐतराज था कि वह यहां से खाना क्यों उठाता है? मैंने साथी खिलाड़ियों को कहा कि मैं उनको उठाकर बाहर फेंक दूंगा. दानिश ने छह-छह विकेट लिए. इंग्लैंड में मेरा नाम चल गया लेकिन असल में वह सीरीज दानिश ने जिताई थी." 

पाकिस्तान के पूर्व स्पिनर दानिश कनेरिया ने 61 टेस्ट में 261 और 18 वनडे में 15 विकेट हासिल किए हैं. वह पाकिस्तान टीम की ओर से खेलने वाले दूसरे हिंदू थे. इससे पहले, अनिल दलपत पाकिस्तान टीम का हिस्सा रहे हैं. दानिश कनेरिया, दलपत के भतीजे हैं.

ये भी देखें-: