गौतम गंभीर ने दिया था सुझाव, DDCA ने लगाया अनुज डेढ़ा पर आजीवन प्रतिबंध

अनुज डेढ़ा और 15 अन्य ने अमित भंडारी पर हॉकी स्टिक, क्रिकेट बल्लों और लोहे की रॉड से हमला किया था. 

गौतम गंभीर ने दिया था सुझाव, DDCA ने लगाया अनुज डेढ़ा पर आजीवन प्रतिबंध
फाइल फोटो

नई दिल्ली: दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) ने अंडर-23 क्रिकेटर अनुज डेढ़ा पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया है. अनुज ने राज्य की अंडर-23 टीम में चयन नहीं होने पर पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज अमित भंडारी के साथ मारपीट की थी. सीनियर चयन समिति के अध्यक्ष भंडारी पर डेढ़ा और उसके साथियों ने सोमवार को सेंट स्टीफन्स मैदान पर तब हमला किया जब वह सैयद मुश्ताक अली ट्राफी की तैयारी कर रही दिल्ली की सीनियर टीम का अभ्यास मैच देख रहे थे. 

डेढ़ा और 15 अन्य ने भंडारी पर हॉकी स्टिक, क्रिकेट बल्लों और लोहे की रॉड से हमला किया था. इस पूर्व तेज गेंदबाज के माथे और शरीर के अन्य हिस्सों पर चोट आयी हैं. उन्हें इसके बाद अस्पताल ले जाया गया और उपचार के बाद उन्हें छुट्टी दे दी गयी. इस बीच दिल्ली पुलिस ने डेढ़ा को गिरफ्तार कर लिया. वह अभी पुलिस हिरासत में है. डीडीसीए अध्यक्ष रजत शर्मा ने कहा कि डेढ़ा की सजा तय करने के लिये बुधवार को बैठक होगी. उन्होंने कहा कि अभी के हिसाब से डेढ़ा पर आजीवन प्रतिबंध लगाना महज औपचारिकता है.

शर्मा ने मंगलवार को कहा, ''हमारी कल बैठक होगी लेकिन जैसा हमारे पूर्व कप्तान गौतम गंभीर ने सुझाव दिया है, मुझे लगता है कि हमारे पास अनुज डेढ़ा पर आजीवन प्रतिबंध लगाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है. उसने जो कुछ किया उसके लिये वह कड़ी सजा का हकदार है.'' डीडीसीए अध्यक्ष ने बताया कि उन्होंने सभी आयु वर्गों के चयनकर्ताओं और कुछ पूर्व क्रिकेटरों को बैठक में बुलाया है. 

शर्मा ने कहा, ‘‘हमें चयन मामलों पर चर्चा करने की जरूरत है लेकिन मैं सभी चयनकर्ताओं को आश्वस्त करना चाहता हूं कि उन्हें भयमुक्त होकर टीमों का चयन करना जारी रखना चाहिए. मैंने लेफ्टिनेंट गवर्नर अनिल बैजल से मुलाकात की और उनसे आग्रह किया वे पुलिस अधिकारियों को सभी कोण से जांच करने के लिये कहें. मैं जानना चाहता हूं कि क्या इस हमले के पीछे किसी तरह की साजिश थी.’’ 

(इनपुट भाषा से)