IND vs WI: विजाग में हैट्रिक लेकर छाए कुलदीप, कहा- 'रंग लाया 4-5 महीने का संघर्ष'

India vs West Indies:  विजाग वनडे में कुलदीप यादव ने अपने दूसरी वनडे हैट्रिक ली. इस बाद उन्होंने कहा कि इस अनुभव को वे शब्दों में बयान नहीं कर सकते. 

IND vs WI: विजाग में हैट्रिक लेकर छाए कुलदीप, कहा- 'रंग लाया 4-5 महीने का संघर्ष'
कुलदीप यादव की यह दूसरी वनडे हैट्रिक है. (फाइल फोटो)

विशाखापट्टन: टीम इंडिया ने वेस्टइंडीज के खिलाफ (India vs West Indies) दूसरे वनडे मैच में शानदार वापसी की. इस मैच में वेस्टइंडीज को 107 रन से हराकर सीरीज 1-1 से बराबर कर दी है. मैच में कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) ने  हैट्रिक लेकर भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई. यह कुलदीप की वनडे में दूसरी हैट्रिक है. कुलदीप ने कहा कि उनके लिए इस अनुभव को शब्दों में बयां कर पाना मुश्किल है. 

कुलदीप के अलावा छाए रोहित केएल
भारत ने इस मैच में 50 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 387 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया था. जवाब में विंडीज 43.3 ओवरों में 280 रनों पर सिमट गई. इस मैच में कुलदीप कीी हैट्रिक के अलावा टीम इंडिया की जीत में  रोहित शर्मा की 159 और केएल राहुल की 102 रन की पारियों का अहम योगदान था. 

यह भी पढ़ें: IND vs WI: विजाग वनडे में टीम इंडिया के 6 हीरो, जिन्होंने सीरीज में कराई वापसी

औपचारिक कर दिया कुलदीप ने मैच
कुलदीप ने 33वें ओवर की आखिरी तीन गेंदों पर विकेट लिए. कुलदीप ने पहले होप को विराट कोहली के हाथों कैच कराया. अगली गेंद पर जेसन होल्डर बिना खाता खोले ऋषभ पंत द्वारा स्टम्पिंग कर दिए गए. ओवर की आखिरी गेंद पर कुलदीप ने अल्जारी जोसेफ को दूसरी स्लिप पर खड़े केदार जाधव के हाथों कैच करा हैट्रिक पूरी.

इससे पहले कोलकाता में ली थी हैट्रिक
उन्होंने इससे पहले कोलकाता में 21 सितंबर 2017 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हैट्रिक ली थी. वनडे में भारत के लिए अभी तक चेतन शर्मा, कपिल देव, कुलदीप यादव और मोहम्मद शमी ही हैट्रिक ले सके हैं.

काफी मुश्किल थे पिछले कुछ महीने
मैच के बाद कुलदीप ने कहा, "मेरे लिए आज का दिन एक दम सही रहा. मैंने वनडे में दूसरी बार हैट्रिक ली. मैं इस अनुभव को शब्दों में बयान नहीं कर सकता. मैं बेहद खुश हूं." कुलदीप बीते कुछ महीनों से टीम से अंदर-बाहर चल रहे थे. इस पर चाइनमैन गेंदबाज ने कहा, "मेरे लिए यह छह-आठ महीने मुश्किल रहे थे. मैं काफी मेहनत कर रहा था. चार-पांच महीनों से मैं संघर्ष कर रहा था, लेकिन अब मैं अच्छी गेंदबाजी कर रहा हूं, अच्छी गति से और अच्छी विविधता से. इसलिए यह मेरे लिए काफी संतोषजनक बात है."

मैच के बारे में कुलदीप ने कहा, "ज्यादा ओस नहीं थी और हम जानते थे कि वे आक्रामकता के साथ खेलेंगे. मेरी कोशिश सिर्फ अपनी गति और विविधता में मिश्रण करने की थी." कुलदीप इसके अलावा दूसरे ऐसे गेंदबाज हैं जिनके नाम तीनों प्रारूप में हैट्रिक है. 
(इनपुट आईएएनएस)