close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

INDvsAUS: एडिलेड में ऑस्ट्रेलियाई पारी में आए ऐसे उतार-चढ़ाव, फैंस की भी सांसें अटकीं

एडिलेड वनडे में ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 298 रन बनाए जिसमें कई रोमांचक उतार चढ़ाव रहे. 

INDvsAUS: एडिलेड में ऑस्ट्रेलियाई पारी में आए ऐसे उतार-चढ़ाव, फैंस की भी सांसें अटकीं
(फाइल फोटो)

एडिलेड: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच वनडे सीरीज के दूसरे मैच में एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया के लिए बड़ा लक्ष्य रखा. मेजबान टीम ने 50 ओवरों में 298 रन बनाए जबकि एक समय ऐसा लग रहा था कि टीम 315 रनों से ज्यादा तक का स्कोर खड़ा कर देगी. लेकिन ऑस्ट्रेलिया की पारी कई उतार चढ़ाव भरी रही. धीमी शुरुआत के बाद भी ऑस्ट्रेलिया की सलामी जोड़ी विकेट बचाकर नहीं रखी लेकिन शॉन मार्श ने संवेदनशील पारी खेलते हुए शानदार शतक लगाया. वहीं टीम इंडिया को विकेट भी मिलते रहे.  मैच में कई रोमांचक क्षण आए. 

ऐसा आया पहला टर्निंग प्वाइंट
एडिलेड में पहले 6 ओवर तक फिंच और एलेक्स कैरी ने मिलकर ऑस्ट्रेलिया ने केवल 18 रन बनाए लेकिन दोनों अपना विकेट बचाने में कामयाब रहे. फिंच और कैरी ने इस बार भी विकेट बचाने पर जोर दिया और मौका मिलते ही रन भी बनाए. इसके बाद जब 7वें ओवर में मैच का पहला टर्निंग पाइंट आया. भुवनेश्वर कुमार ने ओवर की आखिरी गेंद शानदार गुडलेंथ वाली इनस्विंगर डाली और फिंच ने इस बार गेंद को फ्रंट फुट पर डिफेंसिंव खेलने की कोशिशकी लेकिन ऐसा करते समय वे बैट और पैड के बीच में स्पेस छोड़ गए और गेंद उसी गैप में से विकेटों पर जा लगी और फिंच बोल्ड हो गए. उसके अगले ओवर में मोहम्मद शमी ने एलेक्स कैरी को शिखर धवन के हाथों लपकवा कर ऑस्ट्रेलिया को बैकफुट पर ला दिया.

दो विकेट गिरने के बाद ख्वाजा मार्श ने तरसाया
पहले दो विकेट गिरने के बाद उस्मान ख्वाजा ने शॉन मार्श के साथ पारी संभालने की कोशिश की. पहले 10 ओवर के भीतर ही दो विकेट गंवाकर ऑस्ट्रेलिया बैकफुट पर आ गई थी. 10 ओवर तक केवल 38 रन बने थे.  दस ओवर के बाद धीरे-धीरे ऑस्ट्रेलिया की पारी को ख्वाजा और मार्श ने बढ़ाने की कोशिश की. दोनों ने 15 ओवर से पहले टीम का स्कोर 50 के पार कराया और 18 ओवरों तक भारतीय गेंदबाजों को विकेटों के लिए तरसा दिया. 

रवींद्र जडेजा ने दिया झटका
ख्वाजा और मार्श ऑस्ट्रेलिया की पारी संभाल ही रहे थे कि रवींद्र जडेजा ने ख्वाजा को रनआउट कर ऑस्ट्रेलिया का तीसरा विकेट गिरा दिया. ख्वाजा पारी के 19वें ओवर में 21 रन बनाकर आउट हुए. यह ओवर खुलदीप यादव फेंक रहे थे. ओवर की तीसरी ख्वाजा ने पाइंट की दिशा में गेंद को खेला और एक रन चुराने की कोशिश की. वहीं रवींद्र जडेजा अपने बाएं तरफ तेजी से दौड़ते हुए आए और उन्होंने फुर्ती से थ्रो करते हुए बॉलर्स एंड पर विकेटों पर गेंद मारकर गिल्लियां उड़ा दीं. ख्वाजा समय पर क्रीज पर नहीं पहुंच सके और उन्हें पवेलियन वापस जाना पड़ा. 

शॉन मार्श ने दिखाया जलवा
इसके बाद शॉन मार्श ने बल्लेबाजी में थोड़ी तेजी दिखाते हुए 22वें ओवर में ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 100 के पार किया और 24वें ओवर में अपनी फिफ्टी भी पूरी कर ली. वहीं दूसरे छोर पर हैंड्सकॉम्ब 28वें ओवर में जडेजा की गेंद पर धोनी के हाथों स्टंप आउट होकर पवेलियन लौट गए. इसके बाद स्टोइनिस के साथ मिलकर मार्श (86) ने पारी के 36वें ओवर में टीम का स्कोर 180 रन तक पहुंचा दिया. यहां स्टोइनिस  37वें ओवर में मोहम्मद शमी का शिकार बने. वे केवल 29 रन बना सके. यहां तक टीम इंडिया मैच में बनी हुई थी जबकि उसकी स्थिति मजबूत नहीं थी. 

Shaun marsh ton

मैक्सवेल ने आकर मार्श के साथ पलटा मैच
40वें ओवर मैक्सवेल और मार्शने पहले तो तेजी नहीं दिखाई लेकिन जब 43वें ओवर में गियर बदला तो दोनों चौकों छक्कों की बारिश कर भारतीय खेमें हलचल मचा दी. दोनों ने कुलदीप यादव, मोहम्मद सिराज, मोहम्मद शमी की गेदों को जमकर धोया. और 42 ओवर में टीम का 218 का स्कोर 47वें ओवर में 281 रन कर दिया. यहां पर लगने लगा था कि ऑस्ट्रेलिया 50 ओवर तक कम से कम 315 रन तो बना ही लेगा. 

भुवी ने भारत की ओर मोड़ा मैच
48वें ओवर में भुवनेश्वर कुमार ने पहले मैक्वेल को लॉन्ग ऑप पर कैच कराया. मैक्सवेल ने 37 गेंदों में 4 चौकों और एक छक्के के साथ 48 रनों की तूफानी पारी खेली. भुवी ने इसके दो गेंद बाद शॉन मार्श की लंबी पारी पर लगाम लगा दिया. मार्श लॉन्ग ऑन पर रवींद्र जडेजा के हाथों कैच करवा दिया.  मार्श ने 123 गेंदों पर 131 रनों की पारी खेली. 48 ओवर के बाद ऑस्ट्रेलिया के 284 रन पर 7 विकेट गिर चुके थे. इसके बाद अगले ओवर में मोहम्मद शमी ने झाय रिचर्ड्सन को आउट किया और आखिरी ओवर की पहली ही गेंद पर भुवी ने पीटर सिडल को भी चलता कर दिया. यहां ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 9 विकेट पर 286 रन था. 

Bhuvneshwar Kumar

अंतिम ओवर में फिर ऑस्ट्रेलिया की ओर झुका मैच
ऑस्ट्रेलिया के लिए अंतिम पांच गेंदों में नाथन लॉयन ने एक चौका और एक छक्का लगाकर टीम का फाइनल स्कोर 50 ओवर में 9 विकेट पर 298 रन करने में कामयाबी हासिल कर ली. इस तरह से ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया को लगभग 300 का लक्ष्य दिया.