close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

INDvsNZ: हार्दिक को जाधव ने दी इस अंदाज में ‘चुनौती’, कहा- टीम में ऑलराउंडर के कई दावेदार

केदार जाधव का कहना है कि ऑलराउंडर की जगह के लिए प्रतिस्पर्धा अच्छी बात है. 

INDvsNZ: हार्दिक को जाधव ने दी इस अंदाज में ‘चुनौती’, कहा- टीम में ऑलराउंडर के कई दावेदार
केदार जाधव हार्दिक की गैर मौजूदगी में टीम इंडिया के ऑलराउंडर की बढ़िया भूमिका निभा रहे हैं. (फाइल फोटो)

माउंट माउंगानुइ: न्यूजीलैंड दौरे पर बढ़िया प्रदर्शन कर रहे केदार जाधव का मानना है कि इस साल इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप से पहले भारतीय टीम में एक हरफनमौला की जगह के लिए ‘अच्छी प्रतिस्पर्धा’ होना सुखद बात है. सीओए द्वारा निलंबन हटाए जाने के बाद हार्दिक पंड्या की टीम में वापसी हुई है. उन्हें टीम में जगह के लिए तमिलनाडु के विजय शंकर से प्रतिस्पर्धा करनी होगी. स्पिनर हरफनमौला जाधव भी टीम में जगह के दावेदार हैं.

टीम इंडिया न्यूजीलैंड के खिलाफ पांच वनडे मैचों की सीरीज में अभी 2-0 से आगे है और टीम के सभी खिलाड़ी बढ़िया प्रदर्शन कर रहे हैं. नेपियनर में हुए पहले वनडे में टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड के खिलाफ शानदार प्रदर्शन करते हुए 8 विकेट से जीत हासिल की. भारत ने पहले मेजबान टीम को केवल 157 रनों पर समेटकर 34.5 ओवरों में ही 156 रनों का संशोधित लक्ष्य (49 ओवर) हासिल कर लिया था. वहीं दूसरे वनडे में में 325 रनों के लक्ष्य देने के बाद भारतीय गेंदबाजों ने न्यूजीलैंड की टीम 41 ओवरो में 234 रनों पर आउट कर दिया था और 90 रनों की बड़ी जीत दर्ज की थी. 

टीम में प्रतिस्पर्धा होने से यह होगा फायदा
जाधव ने कहा, ‘‘यह किसी भी टीम के लिए अच्छी बात है कि एक स्थान के लिए आपस में इतनी प्रतिस्पर्धा है. हर बार जिस खिलाड़ी को भी मौका मिलता है, उसे पता होता है कि उसे अच्छा प्रदर्शन करना होगा.’’ ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मेलबर्न में निर्णायक वनडे में मिली जीत में अहम भूमिका निभाने वाले जाधव ने कहा कि हर कोई अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करके टीम में जगह बनाना चाहता है. उन्होंने कहा, ‘‘मैं अपने चयन की संभावना पर क्या सोचता हूं, मसला यह नहीं है. यह मेरे हाथ में नहीं है.’’ 

टीम में चुना जाना मेरे हाथ में नहीं 
केदार ने कहा, ‘‘यह चयनकर्ता का फैसला होता है और सर्वश्रेष्ठ 15 खिलाड़ी चुने जाएंगे. हर कोई अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना चाहता है और भारत के लिए खेलना है तो प्रतिस्पर्धा का सामना करना ही होगा.’’ जाधव ने कहा कि महेंद्र सिंह धोनी बीच के और अंतिम ओवरों में तेजी से रन बनाने की अधिकांश जिम्मेदारी खुद लेते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘माही भाई आखिर तक रहते हैं तो काफी मदद मिल जाती है. उनका पूरा अनुभव हम जैसे खिलाड़ियों के काफी काम आता है.’’ 

गौरतलब है कि हार्दिक पांड्या पिछले साल सितंबर में चोटिल होने के बाद टीम इंडिया के लिए नहीं खेल सके हैं. वहीं उन्होंने पिछले साल दिसंबर के मध्य में ही रणजी मैच खेला था उसके बाद से वे किसी मैच में वे नहीं खेले हैं. टीम इंडिया में अब हार्दिक के लिए अपनी लय में आना अब आसान नहीं होगा. 

(इनपुट भाषा)