IPL-12 Final: मुंबई ने तोड़ा चेन्नई का सपना, चौथी बार खिताब जीतकर बनाया रिकॉर्ड

रोहित शर्मा की कप्तानी वाली मुंबई ने फाइनल में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई को एक रन से हराया.

IPL-12 Final: मुंबई ने तोड़ा चेन्नई का सपना, चौथी बार खिताब जीतकर बनाया रिकॉर्ड
मुंबई के कप्तान रोहित शर्मा आईपीएल-12 की विनिंग ट्रॉफी के साथ. (फोटो: PTI)

नई दिल्ली: रोहित शर्मा की कप्तानी वाली मुंबई (Mumbai Indians) की टीम चौथी बार इंडियन टी20 लीग (आईपीएल) की चैंपियन बन गई है. उसने रविवार (12 मई) को खेले गए फाइनल में चेन्नई (Chennai Super Kings) को एक रन से हरा दिया. इसके साथ ही वह आईपीएल का खिताब (2013, 2015, 2017, 2019) चार बार जीतने वाली पहली टीम बन गई है. महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की कप्तानी वाली चेन्नई की टीम तीन खिताब (2010, 2011, 2018) के साथ दूसरे नंबर पर है. 

आईपीएल-12 (IPL-12) का फाइनल रविवार को हैदराबाद में खेला गया. मुंबई (Mumbai Indians) ने इस मैच में टॉस जीतकर पहले बैटिंग की. वीवीएस लक्ष्मण ने पिच रिपोर्ट में कहा था कि यह बल्लेबाजी के लिए अच्छी पिच है. लेकिन रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की कप्तानी वाली मुंबई की टीम इसका फायदा नहीं उठा पाई. वह आठ विकेट पर 149 रन ही बना सकी. लेकिन उसके गेंदबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए चेन्नई को सात विकेट पर 148 रन पर रोक दिया. 

यह भी पढ़ें: IPL-12: इमरान ताहिर ले उड़े आईपीएल का पर्पल कैप, डेविड वार्नर को ऑरेंज कैप

आखिरी ओवर में पलटी बाजी 
चेन्नई की टीम इस मैच में जीत के बेहद करीब पहुंच गई थी. उसे आखिरी ओवर में सिर्फ नौ रन बनाने थे और क्रीज पर शेन वाटसन व रवींद्र जडेजा क्रीज पर थे. लसिथ मलिंगा ओवर फेंक रहे थे. पहली तीन गेंद पर चार रन बने. चौथी गेंद पर वाटसन दूसरा रन लेते हुए रनआउट हो गए. वे 59 गेंदों पर 80 रन बनाकर आउट हुए. उनके आउट होते ही बाजी पलट गई. 

आखिरी 2 गेंद पर बनाने थे 4 रन 
अब चेन्नई को जीत के लिए आखिरी दो गेंदों पर चार रन बनाने थे. अभी-अभी क्रीज पर आए शार्दुल ठाकुर ने ओवर की पांचवीं गेंद पर दो रन लिए. इस तरह चेन्नई को जीत के लिए आखिरी गेंद पर दो रन बनाने थे. लसिथ मलिंगा ने यह गेंद यार्कर लेंथ की फेंकी, जो मिडिल स्टंप की दिशा में थी. शार्दुल इस गेंद को ठीक से नहीं पढ़ पाए. गेंद सीधे उनके पैड से टकराई और अंपायर ने उन्हें एलबीडल्यू करार दिया. इसके साथ ही मुंबई की टीम एक रन से मैच जीत गई. 

यह भी पढ़ें: IPL-12: चैंपियन बनने से पहले ही खुला मुंबई की जीत का राज, कोच जयवर्धने ने किया खुलासा

रोहित से लगातार चार मैच हारे धोनी 
यह मुंबई और चेन्नई के बीच इस सीजन का चौथा मैच था. धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई की टीम इनमें से चारों मैच हार गई. दोनों टीमों के बीच पहला मैच तीन अप्रैल को मुंबई में खेला गया. इसे मुंबई ने 37 रन से जीता था. ये दोनों टीमें इसके बाद 26 अप्रैल को भिड़ीं, जिसे मुंबई ने 46 रन से जीता. इसके बाद दोनों टीमें सात मई को आमने-सामने आईं. इसे मुंबई ने छह विकेट से जीता. इसके बाद रविवार को हुए चौथे मुकाबले में चेन्नई की टीम एक रन से हार गई.