IPL-12: विराट के साथी क्रिकेटर ने कहा- जीत रही टीम को बीच में छोड़कर जाना शर्मनाक

इस साल 30 मई से इंग्लैंड में विश्व कप होना है. इस कारण कई खिलाड़ी आईपीएल बीच में छोड़कर ही अपने देश लौट रहे हैं. 

IPL-12: विराट के साथी क्रिकेटर ने कहा- जीत रही टीम को बीच में छोड़कर जाना शर्मनाक
आईपीएल की टीम बेंगलुरू के खिलाड़ी नेट प्रैक्टिस से पहले तैयारी करते हुए. (फोटो: IANS)

बेंगलुरू: विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम बेंगलुरू का आईपीएल के मौजूदा सीजन में सबसे खराब प्रदर्शन रहा है. वह शुरुआती आठ में से सात मैच हार गई थी. लेकिन इसके बाद उसने वापसी की और लगातार दो मैच जीत लिए. अब जबकि वह जीत की पटरी पर लौट चुकी है, तो उसके इंग्लैंड के क्रिकेटर मोईन अली स्वदेश लौटने की तैयारी में हैं. उन्हें विश्व कप की तैयारी के लिए इंग्लैंड की टीम से जुड़ना है. विश्व कप तो अभी दूर है, लेकिन इतना तय है कि मोईन अली के लौटने से बेंगलुरू का प्रदर्शन प्रभावित हो सकता है. इस साल 30 मई से इंग्लैंड में विश्व कप होना है.  

बेंगलुरू की टीम को बुधवार (24 अप्रैल) को पंजाब की टीम से भिड़ना है. बेंगलुरू की टीम अभी प्वाइंट टेबल में 10 मैचों में तीन जीत कर छह अंकों के साथ सबसे नीचे है. लेकिन अगर वह अपने बाकी चारों मैच जीत ले तो अंतिम-4 की रेस में आ सकती है. हालांकि, ऐसा तभी होगा, जब तीन से अधिक टीमें लीग में आठ मैच से ज्यादा ना जीतें. ऐसा होने पर चौथी टीम का निर्णय रनरेट से होगा. 

यह भी पढ़ें: IPL-12 के ब्रैडमैन बने हुए हैं धोनी, 100 से अधिक औसत से बना रहे हैं रन

मोईन अली ने पंजाब से मुकाबले से एक दिन पहले मंगलवार को कहा कि आईपीएल के बीच से लौटना शर्मनाक है. खासकर तब जब टीम अगर सभी मैच जीत लेती है तो उसका प्ले आफ में जगह बनाने का मौका बन सकता है. उन्होंने कहा, ‘यह आदर्श स्थिति नहीं है. मुझे लगता है कि स्थिति तब और बदतर हो जाती है जब सिर्फ तीन मैच बचे हों. अगर छह या सात मैच बचे हों तो समझा जा सकता है.’ 

इंग्लैंड के ऑलराउंडर ने कहा, ‘और यह पता है कि अगर हम सभी मैच जीत जाते हैं तो आगे बढ़ना का मौका बन सकता है. फिर अगर आप टॉप-4 में जगह बनाने से चूक जाओ तो निराशा होगी. निश्चित तौर पर मैं मैचों पर नजर रखूंगा और देखूंगा कि वे कैसा प्रदर्शन करते हैं. उम्मीद करता हूं कि वे सभी मैच जीतेंगे.’ 31 साल के मोईन अली ने आईपीएल के मौजूदा सीजन में 10 मैचों में 216 रन बनाए हैं और पांच विकेट भी झटके हैं. 

(इनपुट: भाषा)