close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पंत को लेकर मुख्य चयनकर्ता प्रसाद बोले, 'ऋषभ पर नजर रखे हुए हैं, उनके पास काफी प्रतिभा है'

ऋषभ पंत जब से भारतीय टीम में आए हैं, तभी से उन पर सबकी नजर है. विश्वकप के बाद धोनी लगातार क्रिकेट से दूरी बनाए हुए हैं, ऐसे में पंत तीनो फॉर्मेट पर पहली पसंद बने लेकिन हुए हैं लेकिन वह लगातार विफल हो रहे हैं. 

पंत को लेकर मुख्य चयनकर्ता प्रसाद बोले, 'ऋषभ पर नजर रखे हुए हैं, उनके पास काफी प्रतिभा है'
पंत लगातार विफल हो रहे हैं....

कोलकाता: ऋषभ पंत (Rishabh Pant) जब से भारतीय टीम (Team India) में आए हैं, तभी से उन पर सबकी नजर है. विश्वकप (World Cup 2019) के बाद धोनी (MS Dhoni) लगातार क्रिकेट से दूरी बनाए हुए हैं, ऐसे में पंत तीनो फॉर्मेट पर पहली पसंद बने लेकिन हुए हैं लेकिन वह लगातार विफल हो रहे हैं. हालांकि, भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की चयन समिति के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद (MSK Prasad) ने ऋषभ पंत को लेकर बड़ा बयान दिया है. प्रसाद ने कहा कि पंत के वर्कलोड पर नजर है. विकल्प के तौर पर ईशान किशन, संजू सैमसन और अन्य विकेटकीपरों पर निगाहें रखे हुए हैं. 

महेंद्र सिंह धोनी के अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर ब्रेक लेने के बाद से पंत टीम के मुख्य विकेटकीपर के तौर पर खेल रहे हैं लेकिन वह लगातार विफल हो रहे हैं. प्रसाद का हालांकि मानना है कि पंत जैसे प्रतिभाशाली खिलाड़ी के साथ धैर्य रखने की जरूरत है. प्रसाद ने ये बातें एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में कहीं. प्रसाद ने कहा, "मैंने पहले ही विश्व कप के बाद कहा था कि हम पंत पर नजर रखे हुए हैं. हमें उनके साथ धैर्य रखने की जरूरत है क्योंकि उनके पास काफी प्रतिभा है."

उन्होंने कहा, "हम पंत के वर्कलोड पर भी ध्यान दे रहे हैं. जाहिर सी बात है, हम साथ ही तीनों प्रारूपों में विकल्पों पर भी नजर रखे हुए हैं. टेस्ट में इंडिया-ए के लिए के.एस. भरत अच्छा कर रहे हैं हमारे पास किशन और सैमसन हैं जो सीमित ओवरों में इंडिया-ए के लिए और घरेलू क्रिकेट में भी अच्छा कर रहे हैं."

 

उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ तीसरे टी-20 में अर्धशतक लगाया था लेकिन उसके बाद वह लगातार फेल हो रहे हैं. पंत जिस तरह से आउट हो रहे हैं, उससे भारतीय टीम प्रबंधन परेशान है. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टी-20 में भी पंत का बल्ला नहीं बोला और वह पांच गेंदों में चार रन बनाकर आउट हो गए थे. 

पंत को खेलते समय सावधान रहना चाहिए: राजकुमार शर्मा
पंत के बचपन के कोच राजकुमार का कहना है कि उन्हें अपने पसंदीदा फॉर्मेट टी-20 खेलते समय सावधान रहना चाहिए. शर्मा ने कहा, "यह सही समय है जब पंत को अपने पसंदीदा फॉर्मेट में सावधान रहना चाहिए. उसके पास क्वालिटी स्ट्रोक्स हैं, वह प्रभावी प्लेयर है और मैच विनर भी है लेकिन दुर्भाग्यवश वह अपने स्वभाविक खेल का प्रदर्शन नहीं कर पा रहा है."

(इनपुट IANS से)