close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

World Cup 2019: भारत नहीं, इस टीम को विश्व कप का मजबूत दावेदार मानते हैं सुनील गावस्कर

पूर्व कप्तान बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने यह भी कहा कि भारत को पिछले दो साल में इंग्लैंड में खेलने का फायदा मिलेगा. 

World Cup 2019: भारत नहीं, इस टीम को विश्व कप का मजबूत दावेदार मानते हैं सुनील गावस्कर
सुनील गावस्कर. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: इंग्लैंड में होने वाले क्रिकेट वर्ल्ड कप (World Cup 2019) का काउंटडाउन शुरू हो चुका है. भारत और अन्य टीमें इस टूर्नामेंट के लिए अपनी टीमें लगभग फाइनल कर चुकी हैं. भारतीय प्रशंसकों को उम्मीद है कि टीम इंडिया यह वर्ल्ड कप जीतकर लाएगी. टीम इंडिया ने हाल ही में ऑस्ट्रेलिया और फिर न्यूजीलैंड दौरों पर जैसा शानदार प्रदर्शन किया, उसे क्रिकेट जगत के दिग्गजों ने काफी सराहा है. लेकिन पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर भारतीय टीम को विश्व कप जीतने का सबसे बड़ा दावेदार नहीं मानते. वे किसी और टीम को ही सबसे तगड़ा दावेदार मानते हैं. विश्व कप 30 मई से खेला जाना है. 

सुनील गावस्कर ने ‘इंडिया टुडे’ से कहा, ‘विश्व कप में मजबूत दावेदार इंग्लैंड है. ऐसा इसलिए नहीं कि यह इंग्लैंड के लिए घरेलू विश्व कप होगा. ऐसा इसलिए होगा क्योंकि उसने वनडे क्रिकेट को लेकर अपना नजरिया बदल दिया है. इंग्लैंड की टीम 2015 विश्व कप में लीग चरण में बांग्लादेश से हार गई थी. उसने तब से जिस तरह अपने खेल को बदला, जैसे अपनी टीम को चुना, वह काबिलेतारीफ है. इससे इंग्लैंड की टीम मजबूत हुई है.’ 

यह भी पढ़ें: World Cup 2019: क्या दिनेश कार्तिक की किस्मत ने एक बार फिर धोखा दे दिया है

सुनील गावस्कर ने कहा कि इंग्लैंड के पास एक अच्छी ओपनिंग जोड़ी है. उसके पास मजबूत मिडिल-ऑर्डर है. इसके अलावा उनके पास एक अच्छा ऑलराउंडर भी है. जब आप अपने घर पर खेलते हैं तो आपके पास एक मजबूत बैकिंग भी होती है. इसके अलावा उसके पास जोस बटलर और जॉनी बेयरस्टो के रूप में दो विश्वस्तरीय विकेटकीपर हैं. इसलिए यह टीम सबसे संतुलित नजर आती है. 

सुनील गावस्कर को लगता है कि टीम इंडिया को लगातार इंग्लैंड में दो साल खेलने की वजह से फायदा मिल सकता है. उन्होंने कहा, ‘यह भारत के लिए फायदेमंद है कि उसने लगातार दो साल 2017 और 2018 में इंग्लैंड में खेला है. हमारे जो खिलाड़ी विश्व कप टीम का हिस्सा होंगे वे वहां की परिस्थितियों से वाकिफ होंगे. उन्हें वहां खेलने का अनुभव है. भारत विश्व कप का खिताब अपने नाम करने के लिए इस अनुभव का उपयोग कर सकता है. लेकिन मुझे लगता है कि सबसे मजबूत दावेदार इंग्लैंड है और फिर भारत.’ भारत ने इंग्लैंड में जहां 2017 में चैंपियंस ट्रॉफी खेली थी. इसके बाद उसने 2018 में पूरी सीरीज (टी20, वनडे, टेस्ट) खेली.