World Cup: 27 साल बाद रॉउंड रॉबिन फॉर्मेट में होगा विश्व कप, जानिए इस बार की 5 खासियत

1992 का विश्व कप रॉउंड रॉबिन फॉर्मेट में खेला गया था. ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड की मेजबानी में हुए इस विश्व कप में भारत सिर्फ 2 मैच जीत सका था. 

World Cup: 27 साल बाद रॉउंड रॉबिन फॉर्मेट में होगा विश्व कप, जानिए इस बार की 5 खासियत
इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप के विजेता को यही ट्रॉफी दी जाएगी. (फोटो: IANS)

नई दिल्ली: आईसीसी क्रिकेट विश्व कप (World Cup 2019) की ट्रॉफी का ब्रिटेन दौरा गुरुवार को शुरू हो गया. इसके साथ ही ब्रिटेन में विश्व कप की चर्चा भी तेज हो गई है. दूसरी ओर, भारत में इस समय विश्व कप के बायकॉट की चर्चा जोरों पर है. बायकॉट की इस मांग को पूर्व क्रिकेटरों से लेकर आम खेल प्रशंसकों तक का समर्थन मिल रहा है. अब इस विश्व कप में महज 96 दिन (World Cup Countdown) ही बाकी हैं. यह सिर्फ दूसरा मौका है, जब विश्व कप रॉउंड रॉबिन फॉर्मेट में खेला जाएगा. विश्व कप ऐसी ही पांच बातें जो इस बाद बदलाव लेकर आएंगी. 

1. यह विश्व कप रॉउंड रॉबिन फॉर्मेट के आधार पर खेला जाएगा. इससे पहले 1992 में यह फॉर्मेट अपनाया गया था. तब उस वर्ल्ड कप में नौ टीमें खेली थीं. वह टूर्नामेंट पाकिस्तान ने जीता था. भारत ने 1992 के विश्व कप में आठ मैच खेले थे. उसे सिर्फ दो मैचों में जीत मिली थी. 

यह भी पढ़ें: World Cup: भारत-पाक के अलावा ये 2 टीमें खेलेंगी सेमीफाइनल, ऑस्ट्रेलिया दावेदार नहीं: लक्ष्मण

2. 30 मई से होने वाले इस विश्व कप में 10 टीमें हिस्सा लेंगी. पिछले विश्व कप में 14 टीमें खेली थीं. 46 दिनों तक चलने वाले इस विश्व कप में कुल 48 मैच खेले जाएंगे. हर टीम कम से कम नौ मैच खेलेगी. इसके बाद चार सर्वश्रेष्ठ टीमें सेमीफाइनल में प्रवेश करेंगी. 

3. यह पहला विश्व कप होगा, जिसमें अफगानिस्तान की टीम हिस्सा लेगी. अफगानिस्तान के एंट्री के साथ ही यह तय हो गया है कि विश्व कप में 10 में से पांच टीमें एशिया की होंगी. यानी, यह पहली बार होगा कि किसी विश्व कप में आधी टीमें एक ही महाद्वीप की होंगी. 

यह भी पढ़ें: PAK से न खेलने की बजाए हम उसे मैच में हराकर वर्ल्ड कप में रोक सकते हैं: गावस्कर 

4. इस विश्व कप में एशिया के बाद सबसे अधिक टीमें ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप की होंगी. यहां से ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की टीमें दिखेंगी. यूरोप, अफ्रीका और अमेरिकी महाद्वीप से सिर्फ एक-एक टीम (इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका, वेस्टइंडीज) विश्व कप में खेलेंगी. 

5. इंग्लैंड पांचवीं बार विश्व कप की मेजबानी कर रहा है. वह इससे पहले 1975, 1979, 1983 और 1999 में विश्व कप की मेजबानी कर चुका है. इंग्लैंड सभी 13 विश्व कप खेलने और चार बार इसकी मेजबानी करने के बाद भी कभी भी चैंपियन नहीं बना है.